×

2011 वर्ल्ड कप के विश्व विजेता भारत के यादगार मैच| 2011World Cup Indian Team Winning HistoryIn Hindi

2011 वर्ल्ड कप के विश्व विजेता भारत के यादगार मैच| 2011World Cup Indian Team Winning HistoryIn Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-11 days ago
+

दोस्तों वर्ल्ड कप 2019 अपने अंतिम चरण पर है चार बड़ी टीमों के बीच फाइनल में जाने की लड़ाई होगी जिसमे पहला मैच इंडिया वर्सेस न्यूजीलैंड दूसरा सेमीफाइल इंग्लैंड वर्सेस ऑस्ट्रेलिया के बीच होगा भारत अपने 2019 वर्ल्ड में 9 में से 7 मैच जीतकर पॉइंट टेबल पर टॉप कर सेमीफइनल में पहुंची है इंग्लैंड में हो रहे इस शानदार वर्ल्ड में भारतीय टीम का प्रदर्शन देख कर हमें साल 2011 में धोनी की कप्तानी में जीते वर्ल्ड कप की याद आ गई जब भारतीय क्रिकेट टीम ने पुरे 28 साल बाद देश के लिए वर्ल्ड कप जीता था फिर हमने सोचा क्यों ना आज 2011 वर्ल्ड की कुछ यादें ताजा कर ले की 2011 वर्ल्ड में कौनसे मैच में कैसे भारतीय टीम ने विपक्षी टीमों को धूल चटाई थी तो चलिए दोस्तों एक बार फिर शुरू करते है 2011 वर्ल्ड के वो यादगार मैच.

पहला मैच -भारत वर्सेस बांग्लादेश 19 फरवरी 2011 ढाका

2011World Cup Indian Team Winning HistoryIn HindiSource m.media-amazon.com

2011 वर्ल्ड कप मैच में भारतीय टीम का पहला मैच बांग्लादेश की टीम के साथ हुआ भारत ने पहले खेलते हुए बांग्लादेश के सामने 370 रन का विशाल स्कोर खड़ा कर दिया भारत की और से वीरेंद्र सहवाग ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 140 गेंदों का सामना करते हुए 14 चौके और 5 छक्को के साथ 175 रन की शानदार पारी खेली साथ में विराट कोहली ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 100 रन बनाये जबाब में बांग्लादेश की पूरी टीम 283/9 ही बना सकी भारत ने अपना पहला मैच 87 रन से जीत लिया मैच में वीरेंद्र सहवाग को मैन ऑफ़ दा मैच चुना गया

दूसरा मैच- भारत वर्सेस इंग्लैंड 27 फरवरी 2011 बेंगलुरु

2011 World Cup Indian Team Winning HistoryIn HindiSource spiderimg.amarujala.com

टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने इंग्लैंड के सामने 338 रन का विशाल स्कोर बोर्ड पर लगा दिया सचिन तेंदुलकर ने 104 की शानदार स्ट्राइक रेट से बैटिंग करते हुए 115 गेंदों में 120 रन बनाये सहवाग 35 युवराज सिंह ने 58  रन बनाये बैटिंग करने उतरी इंग्लैंड की और से एंड्रू  स्ट्रॉस ने शानदार 158 रन और इयान बैल ने 69 मैच को अंतिम समय तक ले गए और भारत का 2011 वर्ल्ड का दूसरा मैच टाई रहा इस मैच में एंड्रू  स्ट्रॉस को मैन ऑफ़ दा मैच दिया गया

तीसरा मैच - भारत वर्सेस आयरलैंड 6 मार्च 2011 बेंगलुरु

2011 World Cup Indian Team Winning HistoryIn Hindi

Source www1.pictures.zimbio.com

2011 वर्ल्ड के तीसरे मैच में भारत के सामने आयरलैंड ने 47.5 ओवर खेलते हुए 207 रन के मामूली स्कोर पर आउट हो गई पोर्टरफील्ड ने 75 रन ओ ब्रियन ने 46 रन बनाये भारत की और से जहीर खान ने 3 मुनाफ पटेल 3 विकेट पियूष चावला ने 3 विकेट लिए भारत ने लक्ष्य पीछा करते हुए  46 ओवर में मैच जीत लिए युवराज सिंह को शानदार 50 रनो पारी खेली  मैच में शानदार बल्लेबाजी के लिए युवराज सिंह को मैन ऑफ़ दा मैच दिया गया

चौथा मैच - भारत वर्सेस नीदरलैंड 9 मार्च 2011 दिल्ली 

2011 World Cup Indian Team Winning HistoryIn Hindi

Source www3.pictures.zimbio.com

नीदरलैंड ने बैटिंग करते हुए 46.4 में महज 189 रन पर ऑल आउट हो गई भारत की और से जाहिर खान 3 आशीष नेहरा 1 और पियूष चावला और युवराज सिंह ने 2 -2 विकेट लिए छोटे स्कोर का पीछा करते हुए भारतीय टीम की और से वीरेंद्र सहवाग 39 रन सचिन 27 ने अच्छी शुरुआत की अंत में युवराज सिंह के शानदार 51 रन की बदौलत भारत ने 36.3 गेंदों पर मैच को जीत लिए एक बार फिर युवराज सिंह को दूसरी बार मैन ऑफ़ दा मैच चुना गया

पांचवा मैच - इंडिया वर्सेस साउथ अफ्रीका 12 मार्च 2011 नागपुर

2011 World Cup Indian Team Winning HistoryIn HindiSource images.indianexpress.com

भारत ने इस मैच में पहले बैटिंग करते हुए साउथ अफ्रीका के सामने 296 रन का विशाल स्कोर बोर्ड लगाया भारत की और से सलामी जोड़ी वीरेंद्र सहवाग 73 रन सचिन तेंदुलकर 111 रन गौतम गंभीर 69 ने शानदार पारिया खेली अफ्रीका ने लक्ष्य का पीछा करते हुए हाशिम अमला 61 जैक कालिस 69 एबी डिविलियर्स ने 52 रन की शानदार पारी खेली मैच का रोमांच अंतिम ओवर तक गया अंत में जीत अफ्रीका की हुई और भारत को 2011 वर्ल्ड कप में पहली हार का मुँह देखना पड़ा डेल स्टेन को शानदार गेंदबाजी (5 विकेट ) के लिए मैन ऑफ़ दा मैच दिया गया

मैच नंबर 6 - भारत वर्सेस वेस्टइंडीज 20 मार्च 2011 चेन्नई

2011 World Cup Indian Team Winning HistoryIn Hindi

Source lh3.googleusercontent.com

एम ए चिदंबरम स्टेडियम में खेले गए इस मैच में भारत ने पहले बेटिंग करते हुए 268 रन बनाये भारत की और से युवराज सिंह 113 गौतम गंभीर 22 विराट कोहली 59 रन महेंद्र सिंह धोनी 22 रन की पारिया खेली लक्ष्य का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज की टीम महज 189 रन पर ऑल आउट हो गई भारत की और से अश्विन ने 2 जाहिर खान 3 हरभजन सिंह 1 युवराज सिंह ने 2 विकेट लिए भारत ने अपने ग्रुप का अंतिम मैच 80 रन से जीता और 2011 वर्ल्ड के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया युवराज सिंह लगातार तीसरी बार मैन ऑफ़ दा मैच चुने गए 

क्वार्टर फाइनल - भारत वर्सेस ऑस्ट्रेलिया 24 मार्च 2011 अहमदाबाद

2011 World Cup Indian Team Winning HistoryIn Hindi

Source www1.pictures.zimbio.com

2011 वर्ल्ड के क्वार्टर फाइनल मैच में भारत के सामने थी लगातार 1999,2003,2007 के वर्ल्ड कप विजेता टीम ऑस्ट्रेलिया, ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत के सामने 260/6 स्कोर खड़ा किया ऑस्ट्रेलिया की और से रिंकी पोंटिंग 104 ब्रेड हैडिन 53 शेन वाटसन 25 रन बनाये भारत की और से अश्विन 2 जाहिर खान 2 युवराज सिंह 2 ने विकेट लिए लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत को सहवाग के रूप में 44 रन पर पहला झटका लगा बाद में गंभीर ने 50 और कोहली ने 24 और युवराज सिंह 57 एक बार फिर गेंद और बल्ले के साथ अच्छी क्रिकेट दिखाई और भारत को 47.4 जीत दिला दी वर्ल्ड में युवराज सिंह ने 4 बार मैन ऑफ़ दा मैच भी जीता जीत के साथ भारत ने सेमीफाइनल में प्रवेश किया

सेमीफाइनल - भारत वर्सेस पाकिस्तान 30 मार्च 2011 माहोली

2011 World Cup Indian Team Winning HistoryIn HindiSource static.jagbani.com

जिस मैच का हर क्रिकेट प्रेमी को इंतजार रहता है वो है भारत और पाकिस्तान का मैच और वो समय आया 2011 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच में एक और जहां भारत का रिकॉर्ड था वर्ल्ड में पाकिस्तान से कभी ना हारने का वहीं पाकिस्तान इस जीत के साथ फ़ाइनल में एंट्री लेना चाहता था भारत ने पहले खेलते हुए वीरेंद्र सहवाग 38 सचिन तेंदुलकर 85 गंभीर 27 और अंतिम ओवर्स में धोनी 25 और सुरेश रैना 36 की पारियो के सहयोग से 50 ओवर में पाकिस्तान को 260 रन का टारगेट दिया पाकिस्तान की और से लक्ष्य का पीछा करते हुए मोहम्मद हफ़ीज़ 43 कामरान अकमल 19 असद शफ़ीक़ 30 मिस्बाह उल हक़ 56 उमर अकमल 29 के साथ 49.5 ओवर में 231 रन पर आल आउट हो गई और भारत ने अपने जीत का रिकॉर्ड कायम रखा और 2011 वर्ल्ड सेमीफाइनल में पाकिस्तान को 29 रन से हराते हुए 2011 वर्ल्ड कप के फाइनल में प्रवेश कर लिया सचिन तेंदुलकर को मैन ऑफ़ दा मैच चुना गया 

2011 वर्ल्ड कप फाइनल - भारत वर्सेस श्रीलंका - 2 अप्रेल 2011 मुंबई

2011 World Cup Indian Team Winning HistoryIn HindiSource engcric.b-cdn.net

साल 1983 कपिल देव की कप्तानी में वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम इंडिया को पुरे 28 साल बाद एक बार फिर वर्ल्ड कप जीतने की चाहत थी मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में पुरे देश की नजर इस वर्ल्ड कप मैच पर थी श्री लंका ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी चुनी श्री लंका की और से तिलकरत्ने दिलशान 33 कुमार संगाकारा 48 और महेला जयवर्धने ने शानदार 103 रन बनाये अंतिम ओवर में तिसारा परेरा और नुवान कुलसेकरा ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए श्री लंका का स्कोर 50 ओवर में  274/6 पंहुचा दिया विशाल स्कोर का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत ख़राब रही और सहवाग 0 और 18 रन के स्कोर पर सचिन तेंदुलकर आउट हो गए लेकिन गंभीर और कोहली ने पारी को आगे बढ़ाया 114 रन के स्कोर पर विराट कोहली 35 रन बना कर आउट हो गए बैटिंग करने आये धोनी ने गंभीर के साथ शानदार बल्लेबाजी करते हुए 109 के साझेदारी निभाई गौतम गंभीर अपने शतक से महज 3 रन पहले ही परेरा की गेंद पर बोल्ड हो गए धोनी का साथ देने आये युवराज सिंह मैच को अंत तक ले गए अंत में 10 बॉल पर 4 रन के रोमांचक मैच में धोनी ने छक्के के साथ भारत को वर्ल्ड कप 2011 का विजेता बना दिया और देश को पुरे 28 साल बाद वर्ल्ड की ट्रॉफी जीता दी धोनी की शानदार बल्लेबाजी के चलते उन्हें फाइनल मैच में मैन ऑफ़ दा मैच चुना गया

दोस्तों हम सभी की कामना है की भारत 2019 वर्ल्ड को जीते और में एक बार फिर भारत की 2019 वर्ल्ड विनिंग की हिस्ट्री पर लेख लिख कर आपके साथ शेयर करू 

Read More - बूम बूम जसप्रीत बुमराह का जीवन परिचय