×

उदयपुर-जोधपुर सफर के दौरान 5 ऐतिहासिक स्थान | Udaipur To Jodhpur Route Historic Place In Hindi

उदयपुर-जोधपुर सफर के दौरान 5 ऐतिहासिक स्थान | Udaipur To Jodhpur Route Historic Place In Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-6 months ago
+

पाली के बुलेट बन्ना और हल्दी घाटी जैसे  ऐतिहासिक स्थान बना देंगे आपके सफर को और भी शानदार | Top 5 Udaipur To Jodhpur Route Historic Place 

राजस्थान जो अपनी शान -बान राजाओं के ऊंचे महल रेतीली धरातल और वीरों की वीरांगनाओ के लिए दुनिया भर में मशहूर है. राजस्थान की इस महानता के पीछे जयपुर, उदयपुर, जोधपुर, जैसलमेर, पुष्कर और माउन्ट आबू के स्थान प्रमुख है जो राजस्थान की खूबसूरती और विरासत को दर्शाते है दोस्तों यदि आप जोधपुर से उदयपुर के लिए निकल रहे है तो हम आपको बीच में आने वाले उन धरोहरों के बारे में बताएंगे जहां जाने की चाह सभी के मन में होती है जब भी इस रुट पर निकले तब इन स्थानों पर गाड़ी का ब्रेक लगाना ना भूले.

#1. हल्दीघाटी | Haldighati

5 Udaipur To Jodhpur Route Historic Place In Hindi

Source udaipurtourism.co.in

इस भूमि पर कदम रखते ही राणा प्रताप की वीरांगना के पन्ने उल्ट जाते है सन 1576 में राणा प्रताप और मान सिंह के बीच भयंकर युद्ध हुआ था। इतिहास में कहा जाता है की जब राणा प्रताप युद्ध में बुरी तरह घायल हो गए थे तब चेतक घोड़े ने राणा प्रताप को दुश्मनों से बचाकर इसी स्थान पर लेकर आया था और राणा ने यहीं पर अंतिम साँस ली थी.

#2. दिलवाड़ा मंदिर | Dilwara Temples

5 Udaipur To Jodhpur Route Historic Place In Hindi

image source

ये एक जैन तीर्थ स्थल है जो माउंट आबू से लगभग 2.5 से 3 किलोमीटर पर स्थित है इस मंदिर का निर्माण 1231 ई में दो भाइयों ने वास्तुपाल और तेजपाल ने करवाया था। इस मंदिर परिसर के अंदर कुल पांच मंदिर बने हुए है उनमे से विमल वसाही और लूना वसाही प्रमुख मंदिर है इस मंदिर को संगमरमर की शानदार कलाकृति में उखेरा गया है जो सबका मन मोह लेता है.

#3. रणकपुर जैन मंदिर | Ranakpur Jain temple

5 Udaipur To Jodhpur Route Historic Place In Hindi

Source www.trawell.in

अरावली पर्वत की घाटियों के मध्य बसे इस जैन मंदिर की भव्यता देखते ही बनती है ये मंदिर पाली जिले में स्थित है जो उदयपुर से करीब 90 किलोमीटर दूर है इस मंदिर की बनावट सबसे ज्यादा फेमस है मंदिर का निर्माण जैन व्यवसायी सेठ धरना ने राणा कुंभा की मदद से बनवाया था इस मंदिर का निर्माण करीब 50 सालो तक चला था जिसमे करीब 99 लाख का खर्च आया था इस मंदिर को चतुर्मुख मंदिर भी कहा जाता है.

#4. ओम बन्ना मंदिर | Om Banna Mandir Pali

5 Udaipur To Jodhpur Route Historic Place In Hindi

Source i.ytimg.com

ओम बन्ना के इस मदिंर की राजस्थान में काफी प्रशिद्धि है ये मदिंर जोधपुर पाली हाईवे पर बना हुआ है इस मंदिर को को लोग बुलेट बाबा के मंदिर के नाम से भी पुकारते है इस मदिंर में मूर्ति नहीं बल्कि यहां है 350 सीसी की रॉयल एन फ़ील्ड बुलेट जिसकी लोग पूजा करते है ऐसा माना जाता है की 2 दिसंबर 1991 की रात ओम बन्ना किसी कार्य से घर से निकले थे तब जोधपुर पाली हाईवे पर दुर्घटना में उनकी मौत हो गई इस दुर्घटना के बाद जब ओम बन्ना की बुलेट को पुलिस ने थाने में बंद कर दिया था ऐसा कहा जाता है की ओम बन्ना की बुलेट थाने से निकलर अपने आप उसी स्थान पर आ गई थी जहां उनका एक्सीडेंट हुआ था. ओम बन्ना के इस मदिंर में जो भी इस मार्ग से गुजरता है ओम बन्ना के दर्शन जरूर करता है.

#5. कुम्भलगढ़ किला | Kumbhalgarh Fort

5 Udaipur To Jodhpur Route Historic Place In Hindi

Source 2.bp.blogspot.com

द ग्रेट वाल चाइना के बाद कुम्भलगढ़ की दिवार सबसे प्रसिद्धहै ये राणा प्रताप की जन्म भूमि भी है ये किला चित्तौड़गढ़ के बाद दूसरा सबसे बड़ा किला है. कुम्भलगढ़ किले का निर्माण 1443-1458 ई में मेवाड़ राजा राणा कुंभा ने करवाया था इस किले में अंदर जाने के लिए कुल 10 गेट है.