×

चेन्नई ने तीसरी बार जीता ख़िताब, वाटसन के तूफानी शतक ने हैदराबाद को फाइनल में 8 विकेट से हराया...

चेन्नई ने तीसरी बार जीता ख़िताब, वाटसन के तूफानी शतक ने हैदराबाद को फाइनल में 8 विकेट से हराया...

In : Sport By storytimes About :-1 year ago
+

IPL-2018 FINAL CSK VS SRH REPORT CARD

आईपीएल के 11वें सीजन के खिताबी मुकाबले में चेन्नै सुपर किंग्स (CSK) ने शेन वॉटसन की विस्फोटक पारी की बदौलत सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) को 8 विकेट से हराकर खिताब पर तीसरी बार अपना कब्जा जमा लिया है। शेन वॉटसन ने 57 बॉल पर नाबाद 117 रन की पारी खेली और वह अंत तक आउट नहीं हुए। अपनी इस मैराथन पारी के दौरान वॉटसन ने 11 चौके और 8 गगनचुंबी छक्के जड़कर विरोधी टीम को मैच से बाहर ही कर दिया। इस शतकीय पारी की बदौलत सीएसके ने 9 बॉल शेष रहते यह मैच अपने नाम कर लिया। पारी की शुरुआत में डु प्लेसिस का विकेट गंवाने के बाद वॉटसन ने सुरेश रैना (32) के साथ दूसरे विकेट के लिए 117 रन की साझेदारी निभाई, जो चेन्नई(csk)  की जीत में निर्णायक साबित हुई। इस सीजन यह चौथा मौका है, जब चेन्नै सुपर किंग्स(CSK) ने सनराइजर्स हैदराबाद को हराया है। 

पहले रुके फिर धोया वाटसन ने-

via

इससे पहले 179 रन का लक्ष्य लेकर उतरी चेन्नै सुपर किंग्स (CSK) की शुरुआत धीमी रही और सीएसके भुवी और संदीप शर्मा की बोलिंग के सामने पहले 4 ओवर में सिर्फ 16 रन ही जोड़ सकी। इस बीच उसने अपने पिछले मैच के हीरो रहे फाफ डु प्लेसिस (10) का विकेट सस्ते में ही गंवा दिया। इतना ही नहीं चेन्नै की जीत के नायक रहे शेन वॉटसन ने सनराइजर्स के खिलाफ अपना खाता खोलने के लिए 10 बॉल तक संघर्ष किया। वॉटसन ने 11वीं बॉल पर अपना खाता खोला और इसके बाद एक बार वह शुरू हुए, तो फिर पारी के अंत तक उन्होंने रुकने का नाम नहीं लिया। 36 वर्षीय वॉटसन की यह पारी आईपीएल फाइनल में किसी बल्लेबाज द्वारा बनाया गया आईपीएल का सर्वाधिक स्कोर है। 

वाटसन का पहली 10 बॉल पर नहीं खुला खाता -

via

CSK की पारी की शुरुआत में भुवनेश्वर ने अपनी दो ओवर में एक मेडन समेत पहली 10 बॉल तक कोई रन खर्च नहीं किया था, तब लग रहा था कि धारदार बोलिंग के लिए जानी जाने वाली सनराइजर्स हैदराबाद के सामने चेन्नै सुपर किंग्स के लिए यह लक्ष्य आसान नहीं होगा। लेकिन एक बार जब, वॉटसन ने लय हासिल की, तो फिर इस मैच में सनराइजर्स(SRH) के किसी भी बोलर की एक नहीं चल पाई। इस शानदार मैच में सीएसके ने सिर्फ अपने 2 ही विकेट गंवाए। दूसरे विकेट के रूप में जब रैना आउट हुए, तब सुपर किंग्स जीत से महज 46 रन दूर थी। अंत में अंबाती रायुडू ने वॉटसन के साथ मिलकर यह काम आसानी से पूरा कर दिया। 

युसूफ पठान ने खेली उम्दा पारी -

via

इससे पहले चेन्नई(CSK) ने टॉस जीतकर सनराइजर्स को पहले बैटिंग का न्योता दिया था। इस निर्णायक मुकाबले में यूसुफ पठान की उम्दा पारी की बदौलत सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) ने चेन्नै सुपर किंग्स (सीएसके) को 179 रन का लक्ष्य दिया था। पारी के 13वें ओवर में बल्लेबाजी के लिए क्रीज पर आए यूसुफ ने अपनी टीम के लिए इस अहम मुकाबले में 25 बॉल पर 45 रन की उम्दा पारी खेली। अपनी इस पारी में उन्होंने 2 छक्के और 4 चौके लगाए। अंतिम ओवरों में दूसरे छोर से कार्लोस ब्राथवेट ने भी उनका बखूबी साथ निभाया। ब्राथवेट ने 11 बॉल पर 21 रन बनाए। पारी की अंतिम बॉल पर वह छक्का जड़ने के प्रयास में आउट हुए। चेन्नै की ओर से रविंद्र जडेजा, कर्ण शर्मा, लुंगी गिडी ड्वेन ब्रावो और शार्दुल ठाकुर ने 1-1 विकेट लिया। लेकिन वॉटसन की तूफानी पारी के सामने सनराइजर्स के बोलर्स इस टारगेट को बचा नहीं पाए। 

चेन्नई ने अंतिम ओवर में की शानदार गेंदबाजी-

via

विलियमसन के बाद शाकिब अल हसन और यूसुफ पठान ने जिम्मेदारी अपने कंधों पर लेते हुए तेजी से रन बटोरने का सिलसिला जारी रखा। इस बीच 15 बॉल में 23 रन बनाकर शाकिब ड्वेन ब्रावो की बॉल पर आउट(Out) हो गए। ब्रावो की फुल टॉस बॉल(ball) को शाकिब बाउंड्री के पार पहुंचाना चाहते थे, लेकिन वह बॉल को ठीक से कनेक्ट नहीं कर पाए और सुरेश रैना ने उन्हें कैच कर पविलियन भेज दिया। शाकिब चौथे विकेट के रूप में पविलियन लौटे। इसके बाद दीपक हुड्डा (3) भी जल्दी ही पविलियन लौट गए।