×

होम लोन ले रहे है तो जानें पहले ये 6 जरूरी बातें | Things to Know Before Buying A Home Loan

होम लोन ले रहे है तो जानें पहले ये 6 जरूरी बातें | Things to Know Before Buying A Home Loan

In : Meri kalam se By storytimes About :-10 months ago
+

आज के बढ़ते महंगाई के दौर में इंसान के जीवन में पैसों का होना काफी महत्व हो गया है एवं सभी क्षेत्रो में जरूरतों में काफी बदलाव हो गया है इन्हीं जरूरतों के चलते व्यक्ति बैंक के से सहायता  लेने के बारे में सोचता है और बैंक लोन तब  ही देता है जब आपके पास गारंटी के रूप में कुछ हो तब हम सोचते है क्यों ना हम बैंक से होम लोन ले लेवें घर जो हमारे जीवन भर की मेहनत का बनाया हुआ होता है दोस्तों आज हम उन लोगो को गाइड करने वाले है जो होम लोन लेने के बारे में विचार कर रहे है होम लोन लेने से पहले ऐसी 6 महत्वपूर्ण बातें जो जानना जरुरी है तो चलिए अब इसकी शुरुआत करते है।

लोन लेने की क्षमता जांचे

Home Loan Guide In Hindi

Source images.financialexpress.com

सभी बैंक लोन देने से वो सबसे पहले लेनदार की आमदनी और कर्ज चुकाने की क्षमता को देखते है फिर उसे लोन दिया जाता है होम लोन देने वाले सभी सरकारी या प्राइवेट बैंक लोन की कुल राशि प्राप्ति की 80% ही देते है जब भी बैंक लोन अप्रूवल करता है तब वो आपकी नेट इनकम या फॉर्म पर लिखी इनकम से तय नहीं करता है बाकी वो ये तय करते है की ये इनकम लोन चुकाने के लिए परिपक्तव है उदारण के लिए आप जिस भी कंपनी में काम कर रहे वो आपका LTA और मेडिकल आपकी महीने की सैलरी में सही डिडेक्ट होता है इसलिए जब भी लोन ले रहे है तब सबसे पहले ये जांच ले की आपकी कुल आमदनी कितनी है और उस आमदनी से मुझे कितना लोन दिया जा सकता है।

सिबिल स्कोर की जांच करें

Home Loan Guide In Hindi

Source bankhelpline.com

आज सभी बैंक लोन देने से सबसे पहले उस व्यक्ति के क्रेडिट काबिलियत की जांच करते है क्रेडिट इनफॉर्मेशन ब्यूरो इंडिया लिमिटेड (सिबिल) स्कोर बोल सकते है सिबिल स्कोर में 300 से 900 के बीच आपका एक स्कोर होता है और इसी आधार पर तय होता है की आप पहले अपने क्रेडिट का कितनी बार इस्तेमाल कर चुके है बैंक में आपका स्टेटमेंट कैसा है कभी कोई चैक बाउंस है या नहीं वर्तमान में कोई लोन,  बिना इंश्योरेंस के वर्तमान में लोन, कोई लोन का रिपेमेंट हो नहीं हुआ अब तक कितनी बार क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कर चुके है यदि आपका सिबिल स्कोर 700 के आस पास है तो आपको लोन बड़ी आसानी से मिल जाएगा आप जब भी बैंक में क्रेडिट कार्ड का आवेदन देते है तो तब बैंक आपके सिबिल स्कोर की जांच करते है कही बार लोग अपनी लोन लेने की क्षमता जानने के लिए कई बैंको में प्रोसेसिंग फीस का भुगतान करते है जो एक बड़ी गलती है आप जब भी लोन के लिए आवेदन करने जाते है बैंक उसे सिबिल क्रेडिट के दायरे में शामिल कर देता है और फिर आपको लोन मिलने में काफी दिक्कत होती है

ब्याज दरों के बारे में

Home Loan Guide In Hindi

Source s.thestreet.com

दोस्तों होम लोन लेने से पहले ये जरूर जान ले की आप जो भी ब्याज दर चुनते है उसका असर आपकी EMI पर पड़ता है। लोन के समय आप फिक्स्ड रेट होम लोन एवं फ्लोटिंग रेट होम लोन दोनों के मध्य अंतर जाने यदि आप फिक्सड रेड के अनुसार लोन के लिए अप्लाई करते है तो आपके पुरे लोन समय अवधि तक आपकी EMI में कोई बदलाव नहीं कर सकते होम लोन हमेशा फिक्सड रेट में लेना ही फायदेमंद होता है ताकि भविष्य में ब्याज दरों में बढ़ोतरी हो  फ्लोटिंग रेट में बेस रेट के साथ फ्लोटिंग रेट के अनुसार ही आपको दिए जाने वाले लोन की ब्याज दरें तय होती है बेस के ऊपर निचे होने से EMI पर फर्क पड़ता है फ्लोटिंग रेट होम लोन तभी चुनें जब ब्याज दरों की गिरावट की संभावना  हो।

ब्याज दरों के प्रकार 

आज सभी बैंको की होम लोन के लिए अपनी ब्याज दरें है इसलिए कभी भी जल्दीबाजी में बैंक लोन ना ले पहले सभी बैंको की ब्याज दरों के बारे में जाने और जहां काम ब्याज दर हो उसी ही चुनें

ब्याज दरों को जाने

Home Loan Guide In Hindi

Source cdn.zeebiz.com

बैंक हमेशा लोन राशि, होम लोन की ब्याज दर,  और कितने समय तक इन सब को देखकर ही EMI तय करता है होम लोन की राशि हमेशा EMI के विपरीत होती है जिस प्रकार जितनी ज्यादा समय अवधि होगी उतनी है आपके काम EMI होगी और आपके देने के लिए जितना कम समय चुनोगें आपके EMI उतना ही बढ़कर आएगी बैंक हमेशा लोन की अवधि के अनुसार ही ब्याज की दरें  तय करता है आप जितनी ज्यादा समय अवधि लेंगे उसमे आपके ब्याज दरें ऊंची लगेगी और जितनी लोन भुगतान अवधि कम होगी उतना ही ब्याज कम लगेगा जब भी होम लोन ले तब समय अवधि के अनुसार EMI पर पडने वाले प्रभाव के बारे में बैंक से जरूर जान ले

सभी दस्तावेजों को ध्यान से पढ़े

Home Loan Guide In Hindi

Source synergyinfracon.com

होम लोन की फोर्मल्टिज के दस्तावेजों की कॉपी काफी अधिक होती है इतनी कॉपी को देख बिना पढ़े इन पर हस्ताक्षर ना करे सभी दस्तावेजों को ध्यान से पढ़े थोड़ा समय लगेगा लेकिन पूरी फाइल को ध्यान से पढ़े और ध्यान दे की जो शर्ते आपको बैंक अधिकारी ने बताई थी और उन सभी शर्तो से आप सहमत थे फाइल को को पड़ते समय EMI में लगने वाली लेट फीस फाइल चार्ज , प्रोसेसिंग फीस, समय अवधि से पहले लोन मुफ्त होने का फयदा इन सब के बारे में अच्छे से जाने और पढ़े और बाद ही फाइल पर अपने हस्ताक्षर करें