×

इन देशो में क्रिसमस मनाया गया अजीबोगरीब तरिकों से

इन देशो में क्रिसमस मनाया गया अजीबोगरीब तरिकों से

In : Viral Stories By storytimes About :-2 years ago
+

क्रिसमस साल के अंतिम सप्ताह में आने वाला त्योंहार हैं, जिसे बड़े ही हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता हैं। इस त्योंहार में बच्चा क्या और बड़ा क्या। हर कोई सोचता है कि सेंटा आएगा और उनके लिए उपहार लायेगा। इस त्योंहार पर गिफ्ट, सजी हुई क्रिसमस ट्री के साथ पार्टी का मजा लेना बड़ा ही अद्भुत होता हैं। इस त्योंहार को लेकर हा देश में अलग-अलग मान्यता और परंपरा है जो हम आज आपको बताने जा रहे हैं। तो आइये जानते हैं किस देश में क्रिसमस किस तरह मनाया जाता हैं

via

इथियोपिया :

यहां के लोग जूलियन कैलेंडर को मानते हैं इसलिए ये यहां क्रिसमस 7 जनवरी को मनाया जाता है। क्योंकि जूलियन कैलेंडर के हिसाब से क्रिसमस 7 जनवरी को आता है। इसे वे लोग क्रिसमस के नाम से नहीं पुकारते बल्कि गन्न के नाम से पुकारते हैं। इस दिन यहां आदमी और लड़के हॉकी जैसा ही एक खेल गन्न खेलते हैं।

ऑस्ट्रेलिया :

ऑस्ट्रेलिया के लोग क्रिसमस के दिन आउटडोर एक्टिविटीज जैसे स्विमिंग, सर्फिंग, बाइकिंग आदि करके विंटर सीजन का मजा लेते हैं। इसके अलावा चर्च में पार्टी का भी आयोजन किया जाता है।

इटली :

यहां क्रिसमस के दिन बच्चे अपने माता-पिता को लैटर लिखकर गिफ्ट मांगते हैं और साथ ही ये प्रामिस भी करते हैं कि वे न्यू इयर में अच्छा बर्ताव करेंगे|

इंग्लैंड :

इंग्लैण्ड में फैमेलिज के लिए क्रिसमस सबसे ज्यादा बिजी होने वाला दिन रहता है। प्रे करने के बाद यहां बच्चों के साथ क्रिसमस की कहानियों को पढ़ा जाता है। एक खास परंपरा जो इंग्लैण्ड में होती है वो ये है कि इस दिन बच्चे अपनी-अपनी विश एक कागज में लिखकर आग में फेंक देते हैं। ऐसी मान्यता है कि ऐसा करने से वो विश जल्दी से जल्दी पूरी हो जाती है। इसके अलावा सब टीवी या रेडियो पर इंग्लैण्ड की महारानी का संदेश सुनने के लिए भी इकट्ठा होते हैं।

स्कॉटलैंड :

यहां के लोग क्रिसमस के दिन अपने घर के दरवाजे को हैंगिंग से सजाते हैं। दरवाजे को हैंगिंग से सजाने के पीछे मान्यता है| बुरी आत्माओं से बचा जा सकता है| एक रात पहले सभी बच्चे अपने-अपने शूज को अपने घर के बाहर इस उम्मीद में टांग देते हैं|