×

देश के 5 शातिर ठग्स जिन्हें जेल की सलाखें भी कैद नहीं कर पाई | India Top 5 Vicious Thugs In Hindi

देश के 5 शातिर ठग्स जिन्हें  जेल की सलाखें भी कैद नहीं कर पाई | India Top 5 Vicious Thugs In Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-10 months ago
+

जेल जिसका नाम सुन डर भी लगता है लेकिन साथ में ये भी उत्सुकता रहती है की आखिर जेल की दुनिया होती कैसी  है जेल तोड़ कर भागने के सपने और इससे जुडी कहानियां हमारे बीच हमेसा ही चर्चा में रहती है जेल से जुड़ी घटनाओं के बारे में हम कहीं बातें सुन चुके है साथ ही इन घटनाओं पर बॉलीवुड में भी कई फिल्में बन चुकी है इस बात पर कम ही लोगो को विश्वास होता है की यार कोई जेल तोड़ कर कैसे भाग सकता है जेल से भागना कोई बच्चो का खेल थोड़े है लेकिन आज हम 5 ऐसे कैदियों के बारे में बताने वाले है जिन्हें जेल की सलाखें भी कैद नहीं कर पाई.

#5. शेर सिंह राणा

India Top 5 Vicious Thugs In Hindi

Source www.thehindu.com

शेर सिंह राणा ये नाम तो आपने सुना होगा और नहीं भी सुना तो दोस्तों ये वो शख्स है जिसने फूलन देवी को दिल्ली में अपने निवास स्थान के बाहर साल 2001 में गोलियों से भून कर  मौत की नींद सुला दिया था अपने करनानो में से पहले ही विख्यात शेर सिंह राणा फूलन देवी कांड के बाद दुनिया की नजरो में और बड़ा अपराधी बन गया इस हत्याकांड के बाद जब शेर सिंह राणा को तिहाड़ जेल में कैद कर दिया गया था तब वो जेल से ही अपनी गैंग के साथी संदीप ठाकुर के साथ जेल से भागने का प्लान बना रहे थे. इस प्लान के तहत शेर सिंह राणा का दोस्त  संदीप ठाकुर जेल में तीन बार एक वकील के भेष में और एक बार एक बड़ा पुलिस अधिकारी बन शेर सिंह से मिलने आया संदीप ठाकुर ने पुलिस अधिकारी के रूप में जेलर को पहले विश्वास में लिया तब जेलर ने शेर सिंह राणा को कोर्ट ले कर जाने का जिम्मा पुलिस वर्दी में छिपे संदीप सिंह राणा को दे दिया और एक नकली अधिकारी बन संदीप ठाकुर अपने दोस्त शेर सिंह राणा को जेल से ले उड़ा.

#4. जगतार सिंह हवारा

India Top 5 Vicious Thugs In Hindii

mage source

जगतार सिंह हवारा इंटरनेश्नल आतंकी टीम का एक सदस्य था हवारा खालिस्तान में हुए आंदोलन में सक्रीय था साथ ही हवारा पर पंजाब के मुख्यमंत्री  बेंत सिंह की हत्या में भी संदेह के तौर पर देखा जा रहा था हवारा के ऊपर लगे सभी इल्जामों के साबित होने के बाद उसे चंडीगढ़ की बुरेल जेल में बंद कर दिया गया दोस्तों अब उसके फरार होने की पूरी कहानी जाने हवारा के जेल से भागने भागने की कहानी सोच आप भी सोच में पड़ जाएंगे जिस बैरक  में हवारा बंद थे उसमे 35 फ़ीट लम्बी सुरंग खोद दी लेकिन उनका ये पहला प्रयास विफल रहा और उसे जेल के दूसरे बैरक में डाल दिया गया वहा भी हवारा ने सुरंग खोद दी लेकिन ये प्रयास भी विपल रहा लेकिन दोस्तों हवारा का तीसरा प्रयास सफल हुआ व और उनके तीन साथी कैदियों ने मिल कर  8 फीट गहरी और 108 फुट लंबी सुरंग खोद डाली जो सुरक्षा दीवार से कुछ दुरी पर थी तब ये तीन साथीयो के साथ गायब हो गए जिनका आज तक कोई पता नहीं है.

#3. बिहार की बेतिया जेल और 8 कैदी

India Top 5 Vicious Thugs In Hindi

Source i10.dainikbhaskar.com

दोस्तों ये घटना साल 2002 में बिहार के पश्चिमी चंपारण के बेतिया जेल के 8 कैदियों की है इन कैदियों पर कई हत्या और डकैती के मामले दर्ज थे दोस्तों इन कैदियों की भागने की कहानी थोड़ी अलग है इन कैदियों ने जेल प्रशासन की कमजोरी को खुद के भागने का हथियार बनाया दोस्तों आपने गैंग्स और वासेपुर फिल्म की तरह है इन सब कैदियों ने मिल कर आरी से जेल की सभी सलाखों को काट दिया और छुपने के लिए जेल के बाहर एक खाई खोद उसमे छिप गए.

#2. चार्ल्स शोभराज

India Top 5 Vicious Thugs In Hindi

Source images.firstpost.com

दोस्तों इस जेल से फरार होने वाली लिस्ट में चार्ल्स शोभराज का नाम न जोड़े तो नाइंसाफ़ी होगी दुनिया में जब भी ठगों की लिस्ट बाहर आती है तब चार्ल्स शोभराज का नाम सबसे पहले आता है दोस्तों चार्ल्स पर भारत ही नहीं बल्कि नेपाल थाईलैंड में कुल 12 लोगो की हत्या के मामले दर्ज है दोस्तों अब चार्ल्स के जेल की फरारी की कहानी सुनिए सभी मुकदमों में चार्ल्स को 18 साल की जेल हुई थी और वो अपनी सजा तिहाड़ में काट रहा था चार्ल्स का जेल से भागने का प्लान थोड़ा अलग था उसने एक सिरिंज ली और उससे अपना ही खून निकाल कर पी गया ताकि जेल सुरक्षा को लगे की उसे अल्सर हो गया है जब चार्ल्स को जेल अधिकारियो ने डॉक्टर्स के पास ले गए तब वो वहां से मौका पा कर फरार हो गए लेकिन कुछ समय बाद उन्हें फिर से पकड़ लिया गया और एक बार और अपने स्मग्लर दोस्त डेविड से जेल में फलों के साथ नशे की दवाई मंगवाई और जेल के सुरक्षाबलों को सुंघा दी और जेल से फरार हो गए.

#1. नटवरलाल

India Top 5 Vicious Thugs In Hindi

Source www.thaluapatrakar.in

दोस्तों आपको इस बात पर विश्वास नहीं होगा की ठग्स नटवर लाल इतना शातिर ठग्स था की उसने 3 बार ताजमहल को दो बार लाल किला एक बार राष्ट्रपति भवन और एक बार संसद भवन को भी बेच दिया था दोस्तों इन जेल से भागने की कहानी भी थोड़ी अलग है जेल में रहकर नटवर लाल काफी उम्रदराज हो गए थे इसलिए अपनी उम्र की आड़ लेते हुए उसने जेल अधिकारियों को डॉक्टर्स को दिखाने के लिए कहा उनकी उम्र को देख जेल के अधिकारी  उनकी बात मान गए उस समय नटवर कानपूर जेल में कैद थे उसे वहां से एम्स में भेजा गया और साथ में उनके दो सिपाही भेजे गए दिल्ली स्टेशन पर दोनों सिपाही चाय पिने चले गए और नटवर लाल को एक सफाई कर्मचारी के पास छोड़ गए नटवर लाल ने मौका देख सफाई कर्मी को चाय लाने के लिए भेज दिया और जब तक वो सब वापिस आते नटवर लाल वहां से रफूचक्कर हो गए.