×

इन गांवो की कहानी सुन बदल सकता है भारत का हर गांव | India Top Success Village List

इन गांवो की कहानी सुन बदल सकता है भारत का हर गांव | India Top Success Village List

In : Meri kalam se By storytimes About :-5 months ago
+

दोस्तों गांव शब्द सुन हमारे दिमाग में पुरानी यादें घूमने लगती है या हम यु कहें तो हम गांव से जुड़ी यादें हम कभी नहीं भुला सकते चाहें हम दुनिया के बड़े से बड़े शहर में क्यों ना चले जाये दोस्तों हमारी इन बातों को पढ़ कर आप भी गांव की यादो में खो गए होंगे दोस्तों आज हम गांव से ही जुड़ा लेख आपके सामने पेश करने वाले है दोस्तों ये बात हम सभी मानते है शहरो जैसी चमक धमक गांवो में नहीं है लेकिन दोस्तों जो सुकून गांव में है वो शहर में भी नहीं है

शहर और गांव में भले ही रात -दिन का फर्क है लेकिन दोस्तों इस मामले में ये 6 गांव भी शहरो से पीछे नहीं है जो भारत की विकासशील प्रकति को दर्शाते है तो चलिए दोस्तों इन गांवो के बारे में जानते है जो विकास के मामले में शहरों को भी कड़ी टक्कर देते है 

पोथानिक्कड़ गांव केरल - Pothanikkad village Kerala

India Top Success Village ListSource vidyaplus.files.wordpress.com

दोस्तों भारत के केरल राज्य में स्थित इस गांव में शिक्षा को काफी महत्व दिया जाता है यही कारण है की इस गांव में 100 % साक्षरता है इस गांव की कुल जनसख्या 17,563 जो पूरी तरह साक्षर है 

छापर गांव हरियाणा - Chhapar village Haryana

India Top Success Village List

Source image1.masterfile.com

जिस तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश में महिलाओं के लिए काम कर रहे है पूरा देश महिलाओं के सम्मान के आगे झुक गया है दोस्तों भारत के राज्य में महिला लिंग अनुपात कम है लेकिन दोस्तों इस राज्य में एक ऐसा गांव भी है जो इस राज्य को इस आकड़े को सुधारने में मदद कर रहा है दोस्तों हम बात कर रहे हरियाणा के छप्पर गांव की इस गांव की सरपंच ने महिलाओं और बेटियों के प्रति सम्मान और उनकी रक्षा की बागडोर संभाली है और वो इसमें सफल भी हुई उनके इस प्रयास से उन्होंने पीढ़ियों से चली आ रही परम्पराओं से भी महिलाओं और बेटियों को बाहर निकाला है

बलिया गांव उत्तर प्रदेश - Ballia Village UP

India Top Success Village ListSource www.thehindu.com

दोस्तों हम जानते है शुद्ध जल हमारे शरीर के लिए कितना जरुरी है लेकिन दोस्तों जिस गांव बलिया की बात कर रहे ये उनके नसीब में नहीं था शायद इस गांव में रहने वाले सभी लोग आर्सेनिक युक्त पानी का यूज करते थे इस वजह से गांव के लोगो में कई तरह की बीमारिया फैलने लगी तब सरकार ने इस गांव की शुद्ध ली और और शुद्ध पानी के लिए हेंडपम्प खुदवाएं सरकार के इस कदम को देख सभी गांव वालो ने गांव के लिए शुद्ध पानी जमा करने के ठानी और सभी गांव वालो गांव के पुराने कुओं को साफ किया और गांव के लिए शुद्ध पानी का इंतजाम किया

मावल्यान्नॉंग गांव मेघालय - Mawlynnong Village Meghalaya

India Top Success Village ListSource static.dnaindia.com

दोस्तों देश में सावश भारत अभियान की बात मावल्यान्नॉंग गांव पर पूरी तरह लागु होती है दोस्तों मेघालय का ये गांव आज एशिया का सबसे साफ सुथरा गांव है इस गांव ने ये उपलब्धि साल 2003 में हासिल कर ली थी इस गांव को सववच बनाने में इस गांव के लोगो का सबसे बड़ा हाथ है गांव के हर सार्वजानिक जगह पर कचरा पात्र लगे हुए गांव में सफाई का माहौल इस कदर है की आपको गांव में किसी भी कोने घूमने के बाद भी कचरा नहीं मिलेगा

Korkrebellur, कर्नाटक - Kokrebellur Village Karnataka

India Top Success Village ListSource static2.tripoto.com

दोस्तों इस गांव में पक्षियों के प्रति काफी दायलुता है जिसके किस्से आस पास के गांव में फेमस है हम सब ने सुना है की पक्षी खेत में होने वाली फसल को नुकसान पहुंचाते है लेकिन दोस्तों इस गांव की कहानी कुछ अलग है इस गांव में कुछ ऐसे दुर्लभ पक्षी आते है जो ना तो फसल को नुकसान पहुंचाते है और ना ही वहां रहने वाले लोग उन्हें इस गांव में किसी भी पक्षी के चोट या घायल होने पर उपचार की समूची व्यवस्था की गई है

हिवड़े बाज़ार, महाराष्ट्र -  Hiware Bazar Village in Maharashtra

India Top Success Village ListSource i.ytimg.com

दोस्तों जिस तरह इस गांव का नाम अलग है उस तरह ये गांव भी थोड़ा हठ के है हर साल इस गांव को सुखे की मार झेलनी पड़ती है दोस्तों इस गांव की खास बात ये है की इस गांव में करीब 60 लोग ऐसे है जो लखपति है और गरीबी इस गांव के पास दूर - दूर तक नहीं है साल 1990 में इस गांव में  पोपटराव पवार नमक व्यक्ति को सरपंच पद के लिए चुना गया  पोपटराव पवार ने सरपंच बनते ही अपने गांव में ऐसे कार्य किये की इस गांव में सब कुछ बदल गया सरपंच  पोपटराव पवार गांव में नशीले पर्दार्थो पर पूर्णनागौर जिले का ये गांव अपने आदर्शों के लिए बना प्रेरणा रोक लगा दी और बरसात के समय पानी की बचत के फायदे और वो कैसे इस्तेमाल करे इस बारे में गांव के लोगो को समझाया सरपंच  पोपटराव पवार की इस मेहनत का नतीजा ये निकला की आज इस गांव में प्रति व्यक्ति आय 830 से बढ़कर 30000 से अधिक तक हो गई है जो इस गांव के सफल होने के लिए काफी है

Read More - नागौर जिले का ये गांव अपने आदर्शों के लिए बना प्रेरणा