×

कश्मीर में भारतीय सेना ने चलाया सर्च ऑपरेशन

कश्मीर में भारतीय सेना ने चलाया सर्च ऑपरेशन

In : National By storytimes About :-2 years ago
+

कश्मीर में भा​रतीय सेना ने चलाया सर्च ऑपरेशन


साउथ (south) कश्मीर के शोपियां जिले में सिक्युरिटी फोर्स ने 13 गांवों में घेराबंदी की। पुलिस के मुताबिक, इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। 4 मई को सिक्युरिटी फोर्स के 4 हजार जवानों ने शोपियां-पुलवामा के 20 गांवों में सर्च ऑपरेशन चलाया था। बीते कई महीनों से कश्मीर में फोर्स ऑपरेशन क्लीन चला रही है। इस साल 3 अक्टूबर तक सेना ने 150 आतंकवादी  ढेर किए हैं।  Indian Army                                                  

SOURCE

घाटी में 275 आतंकी सक्रिय ..

कश्मीर में इस वक्त२७५ आतंकवादी सक्रिय हैं इनमें से 250 तो सिर्फ पीर पंजाल रेंज में ही  हैं। न्यूज एजेंसी ने गुप्तचरों के माध्यम से यह जानकारी दी है।
 सूत्रों के मुताबिक, 2017 में 291 आतंकवादियों ने भारत में घुसने की कोशिश की। इनमें से 80 सफल हो गए. इस साल सेना ने  3 अक्टूबर तक 150 आतंकवादी ढेर किए हैं। 4 मई को शोपियां में खोज अभियान के  के बाद अपने कैम्प लौट रहे जवानों के झुण्ड  पर आतंकवादियों ने हमला किया। इस हमले में एक सिविलियन (Civilian)की मौत(DEATH) हो गई थी।  आतंकियों को ढूंढ निकालने के लिए१७ मई को  एक हजार जवानों में शोपियां में ही खोज अभियान चलाया था।


क्या है सर्च अभियान का उद्देश्य?


 अप्रैल-मई में साउथ कश्मीर में आतंकियों से जुड़े 30-35 वीडियो सामने आए थे। इनमें आतंकियों को ट्रेनिंग देने वाला एक वीडियो वायरल हुआ था। 16 आतंकी इस वीडियो में दिखाई दिए थे। 15 आतंकी ट्रेनिंग ले रहे हैं और एक आतंकी बन्दूक  चलाना सिखा रहा है। ये आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन और लश्कर-ए-तैयबा(Lashkar-e-Taiba) गुट के  थे। वीडियो के सामने आने के बाद सुरक्षा  एजेंसियां को सतर्क  किया गया था।
 पिछले कुछ दिनों में कश्मीर के 100 लड़कों के आतंकी गुटों में शामिल होने की भी खबर है।
आतंकियों को साउथ कश्मीर के गांवों में हर तरह का सपोर्ट मिल रहा है। इसके चलते घरों और बगीचों की तलाशी ली गई।
पिछले कुछ दिनों में आतंकियों के पुलिस से हथियार छीनने की घटनाएं सामने आई है.
सिक्युरिटी फोर्सेस के लिए चिंता की बात ये है कि पुलिस ने बिना कोई विरोध किए उन्हें हथियार सौंप दिए। बैंक लूट की घटनाओं (Events)में हाल में पुलिस की भी कोई सक्रिय भूमिका सामने नहीं आई।