×

दुनिया के इन लोगो के हौसले के आगे हारी इनकी उम्र | Late Achievers Success Story in Hindi

दुनिया के इन लोगो के हौसले के आगे हारी इनकी उम्र | Late Achievers Success Story in Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-8 months ago
+

जेन कुम व्हाट्सएप्प | Jan Koum Whatsapp

 Late Achievers Success Story in Hindi

Source hankervisionary.com

दोस्तों जेन कूम एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर थे। इतना टैलेंट होने के बाद भी जेन कूम फेसबुक और ट्विटर जॉब इंटरव्यू के दौरान निराशा हाथ लगी। दोस्तों जब जेन कूम  ने व्हाट्सएप कि शुरुआत कि थी तब उनकी उम्र 35 साल हो गई थी। जेन कूम ने व्हाट्सप्प पर जो कामयाबी हासिल कि है उसे आज पूरी दुनिया जानती है आज व्हाट्सअप हर आम इंसान कि जरुरत बन गया है। यही कारण है कि फेसबुक जैसी बड़ी कंपनी ने व्हाट्सप्प को खरीदने के लिए  19 बिलियन डॉलर (करीब 1,23,000 करोड़ रूपये ) कि कीमत लगा दी थी। दोस्तों आज जेन कूम की साल की कमाई 950 करोड़ अमरीकी डॉलर है जो एक बड़ी कामयाबी है।

माइकल एरिंगटन टेकक्रंच | Michael Arrington TechCrunch

 Late Achievers Success Story in Hindi

माइकल एरिंगटन ने स्टैन्फोर्ड लॉ स्कूल में पढ़ाई की और वो एक वकील बन गए। माइकल एरिंगटन कॉर्पोरेट और सिक्योरिटीज लॉ में कई सालो तक कार्य किया इसके बाद भी वो कही स्टार्टअप  से जुड़े और खुद के बिजनेस भी किये लेकिन इनमे माइकल एरिंगटन को सफलता हाथ नहीं लगी। माइकल एरिंगटन जब 35 साल के थे तब उन्होंने TechCrunch नाम का एक टेक ब्लॉक की शुरुआत की  टेक न्यूज़ दुनिया की टेक्नोलॉजी से जुडी खबरे देने वाला एक ब्लॉग था। माइकल एरिंगटन के इस ब्लॉग पर करोड़ो यूजर न्यूज़ पढ़ने आते है। दोस्तों यही वजह है की माइकल एरिंगटन आज नेट वर्थ $15 Million है 

नवाजुद्दीन सिद्दीकी बॉलीवुड  | Nawazuddin Siddiqui Bollywood

 Late Achievers Success Story in Hindi

दोस्तों आज जितने नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी बॉलीवुड में फैमस है उतना ही इनको बॉलीवुड में आने के लिए संघर्ष करना पड़ा नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी ने अपनी पहली जॉब पेट्रोकेमिकल कंपनी में केमिस्ट की नौकरी की नवाज़ुद्दीन जब 22 साल के थे तब उन्होंने दिल्ली आ कर एक ड्रामा स्कूल में ड्रामा एक्टिंग सीखी। ये कोर्स पूरा होने के बाद नवाज़ुद्दीन  मुंबई चले गए। मुंबई में भी उन्हें कई बुरे दिनों का सामना करना पड़ा सरफ़रोश, मुन्ना भाई जैसी फिल्मों छोटे रोल कर के सालो तक अपना जीवन चलाया। ये सब चलता गया और नवाज़ुद्दीन की उम्र 33 साल के हो गई बॉलीवुड के डायरेक्टर ने नवाज़ुद्दीन की फिल्म ब्लैक फ्राइडे में उनकी एक्टिंग को नोटिस किया और इसके बाद इसके बाद नवाज़ुद्दीन को बॉलीवुड की गैंग्स ऑफ़ वासेपुर, बजरंगी भाईजान जैसी फिल्मों में काम मिला और वो फिल्में पर्दे पर हिट हुई । इन फिल्मों को करने के बाद नवाज़ुद्दीन के जीवन   में पूर्ण बदलाव आ गया। नवाज़ुद्दीन बताने है की उन्होंने संघर्ष के दिनों में वॉचमेन और कुक का काम कर अपना गुजरा किया था। नवाज़ुद्दीन ने बताया की उनकी माँ द्वारा बताई कई एक बात हमेशा याद रखते थे "बुरे दिन बदलते हैं, तुम तो फिर भी इन्सान हो" इसका मतलब एक जगह पड़ा हुआ कचरा भी एक जगह नहीं रहता सो तुम्हारा भी समय जरूर बदलेगा।

जिमी वेल्स विकिपीडिया | Jimmy Wales Wikipedia

 Late Achievers Success Story in Hindi

Source cdn-images-1.medium.com

जिमी वेल्स फाइनेंस क्षेत्र में मास्टर्स की शिक्षा की थी। कई सालो तक फाइनेंस क्षेत्र में करने के बाद 35 साल की उम्र में साल 2001 में jimmy Wales ने Wikipedia की शुरुआत की. दोस्तों आज ये वेबसाइट दुनिया फ्री विश्वकोश देखने वाली दुनिया की 5वी सबसे ज्यादा देखी जानी वाली ऑनलाइन साइट है।  आज हर व्यक्ति किसी भी जानकारी के लिए विकिपीडिया पर जाते है। इस वेबसाइट पर करोड़ो यूजर होने के कारण इसकी कीमत लगाना तो मुश्किल है लेकिन सम्भवतः हजारो डॉलर में जरूर है।

अमिताभ बच्चन बॉलीवुड | Amitabh Bachchan Bollywood

 Late Achievers Success Story in Hindi

बॉलीवुड के बिग-बी कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन का भी शुरुआती फ़िल्मी करियर संघर्ष से गुजरा अपने पहले इंटरव्यू में ऑल इंडिया रेडियो में असफल होना, परेशानी यही खत्म नहीं हुई अमिताभ बच्चन को लंबी हाइट के कारण कोई भी डायरेक्टर उन्हें अपनी फिल्म में लेने के लिए राजी नहीं था। इस कारण लंबे समय तक अमिताभ बच्चन से सफलता दूर रही। लंबे समय से सफल नहीं होने के कारण एक बार 27 साल की उम्र में अमिताभ बच्चन ने फ़िल्मी क्षेत्र छोड़ने का मन बना लिया। लेकिन उन्हें फिर हिंदी फिल्म सात हिंदुस्तानी में काम करने का मौका मिला  और वो फिर संघर्ष करते गए 29 साल की उम्र में अमिताभ बच्चन को उस समय के महान एक्टर राजेश खन्ना के साथ आनंद फिल्म में काम करने का मौका मिला इस फिल्म के बाद बॉलीवुड जगत अमिताभ बच्चन को पहचाने लगा 31 साल की उम्र में डाइरेक्टर प्रकाश मेहरा की आयी फिल्म जंजीर ने अमिताभ बच्चन को रातो-रात स्टार बना दिया फिर तो अमिताभ बच्चन के पीछे खुद सफलता भागने लगी और आज अमिताभ बॉलीवुड के महानायक बन गए।