एक सरकारी स्कूल जो हर रोज खुलता है 1 बच्चे की शिक्षा के लिए | Mansa Bigha Sarkari School In Hindi

एक सरकारी स्कूल जो हर रोज खुलता है 1 बच्चे की शिक्षा के लिए | Mansa Bigha Sarkari School In Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-2 years ago
+

स्कूल जहां बच्चें पढ़ने जाते है। हर साल कुछ बच्चें आगे बढ़ जाते कुछ नए बच्चें स्कूल में दाखिला लेते है। इस तरह हर स्कूल का संचालन होता है। लेकिन दोस्तो कभी आपके यह सुनने में आया है की महज एक बच्चें के लिए एक पूरा स्कूल हर रोज चलता है। जी हां एक स्कूल जो हर रोज केवल एक बच्चें के खुलता है। तो बता दे दोस्तो वो स्कूल मौजूद है बिहार में है जो हर रोज एक बच्ची की पढ़ाई के लिए खुलता है।

2 शिक्षक पढ़ाते है स्कूल में

हर रोज एक बच्ची खुलने वाला यह स्कूल बिहार के गया से 20 किमी. दूरी पर स्थित मनसा बिगहा गांव में है। यह एक सरकारी स्कूल है। हर रोज यह स्कूल खुलता है और स्कूल में पढ़ने वाली बच्ची जाह्नवी को 2 शिक्षक पढ़ाने आते है। जाह्नवी अभी प्रथम कक्षा में पढ़ाई कर रही है।

ऐसा क्यों हैं ?

Mansa Bigha Sarkari School In HindiSource graminchahalpahal.com

गया जिलें के इस गांव में करीब 35 परिवार रहते है। फिर गांव में इस सरकारी स्कूल में एक ही बच्चा स्कूल क्यों जाता है बाकी लोगो के बच्चें क्या करते है क्या वो पढ़ाई नही करते है ? नही दोस्तो ऐसा नही है दरअसल गांव के बाकी बच्चें खिजरसराय में स्थित स्कूल में पढ़ने जाते है। इसके चलते मनसा बिगहा के गांव में मौजूद सरकारी स्कूल में केवल जाह्नवी ही पढ़ने जाती है।

योजना के तहत जाह्नवी के लिए बनता ​​​​​​​है खाना

जी हां दोस्तो इस सरकारी स्कूल में पढ़ने वाली जाह्नवी के लिए मिड डे मील योजना के तहत हर रोज खाना भी तैयार होता है। स्कूल वो सारी सुविधाए है जो हर एक सरकारी स्कूल में होती है। स्कूल एक के प्रधानाअध्यापक ने बताया की “ उन्होंने कई बार गांव के लोगो से बच्चों का दाखिला इस में करवाने के लिए अनुरोध किया मगर गांव में कोई भी व्यक्ति अपने बच्चें का दाखिला सरकारी स्कूल में करवाने के लिए राजी नही है। ”

9 छात्रों का हुआ नामांकन

Mansa Bigha Sarkari School In HindiSource new-img.patrika.com

स्कूल की इस चर्चा के बीच प्रधानाअध्यापक ने बताया की स्कूल में कुल 9 बच्चों के नाम लिखवाएं गए मगर 9 में से जाह्नवी स्कूल आती है। गांव में रहने वाले आर्थिक रुप से विकसीत होने के कारण वो अपने बच्चों को 1 किमी. दूर प्राइवेट स्कूल में भेजते है। दुसरी तरफ जाह्नवी की शिक्षा के प्रति लगन को देखते हुए आज यह स्कूल महज 1 बच्चें की शिक्षा के लिए चल रहा है।

Read More - सरकारी स्कूल में पढ़ने वाली छात्रा को NASA जाने का मौका मिला

एक सरकारी स्कूल जो हर रोज खुलता है 1 बच्चे की शिक्षा के लिए | Mansa Bigha Sarkari School In Hindi