×

नवीन पटनायक जीवनी | Navin Patnaik Biography in Hindi

नवीन पटनायक जीवनी | Navin Patnaik Biography in Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-2 years ago
+

नवीन पटनायक जीवन परिचय एवं राजनितिक सफ़र | All About Navin Patnaik Biography  In Hindi

  • जन्म-  16 अक्टूबर  1946 ( 71 साल )
  • जन्म स्थान- कटक, ओडिशा, ब्रिटिश  भारत
  • पिता का नाम- बिजू पटनायक
  • माता का नाम- ज्ञान पटनायक
  • राजनेतिक पार्टी- बीजू जनता दल
  • शिक्षा- द डॉन स्कूल, वेल्लम बॉयज़ स्कूल, दिल्ली विश्वविद्यालय, सेंट स्टीफन कॉलेज, दिल्ली, किरोरी मल कॉलेज

उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक एक लंबे समय से भारतीय राजनीति में सक्रिय हैं। उड़ीसा के जनमानस में नवीन पटनायक का एक विशेष स्थान है, उड़ीसा के लोग नवीन पटनायक में काफी विश्वास रखते है, यही कारण है की वे लगातार लंबे अरसे से उड़ीसा के मुख्यमंत्री बने हुए हैं। वर्तमान में वे उड़ीसा के 14 वें मुख्यमंत्री हैं । इसके साथ ही वे अपनी राजनीतिक पार्टी बीजू जनता दल के प्रमुख भी हैं। राजनीति के अलावा उन्हें किताबें लिखने का भी शौक है। अबतक उनकी चार पुस्तस्कें प्रकाशित हो चुकी हैं। 

आरभिक जीवन एवं शिक्षा

Navin Patnaik Biography

16 अक्तूबर 1946 को कटक में जन्मे नवीन पटनायक के पिता उड़ीसा के भूतपूर्व मुख्यमंत्री बीजू पटनायक थे । इनकी माता ज्ञान पंजाब से हैं। नवीन पटनायक अपने परिवार में पप्पू के नाम से जाने जाते हैं। कटक के सेंट जोसेफ कनवेंट स्कूल में इनकी प्रारम्भिक शिक्षा हुई, इसके बाद देहारादून के वेलहाम ब्वायज स्कूल से नवीन ने शिक्षा प्राप्त की। नवीन पटनायक ने स्नातक की उपाधि दिल्ली विश्वविद्यालय से कला  विषय में ली है। ये इतिहास, चित्रकारी और खेलकूद में काफी आगे रहते थे। प्रारम्भ में इनका राजनीति में कोई लगाव नहीं था।  नवीन पटनायक दून  स्कूल मे पढ़ते हुए राजीव गांधी से तीन वर्ष छोटे थे। अपने दिल्ली के प्रवास के समय नवीन पटनायक ने अपना अधिकतर समय तीन मूर्ति रोड पर स्थित पंडित जवाहर लाल नेहरू के आवास पर बिताया था।

राजनीतिक जीवन

Navin Patnaik Biography via:wikimedia.org

 अपने पिता बीजू पटनायक के निधन पर नवीन पटनायक अमेरिका से वापस आकर 11 वीं लोकसभा के अस्का संसदीय क्षेत्र के उप चुनाव में लोक सभा के सदस्य हुए । संसद के सदस्य के रूप में नवीन पटनायक स्टील और खनन मंत्रालय के सलाहकार समिति के सदस्य थे ,इसके अलावा वाणिज्य की स्थायी कमेटी के भी सदस्य थे। इन्होंने संसद की लाइब्रेरी कमेटी के सदस्य के रूप में भी अपना योगदान दिया । 1998 में उन्होने उड़ीसा में बीजू जनता दल नामक पार्टी की स्थापना की। अस्का संसदीय क्षेत्र से ही वो दोबारा 12 वीं लोकसभा के सदस्य के रूप में चुने गए । इसके बाद नवीन पटनायक सन 2000 में भारतीय जनता पार्टी के समर्थन से उड़ीसा के मुख्य मंत्री बने। वे अबतक उड़ीसा के मुख्यमंत्री बने हुए हैं। उनकी पार्टी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का अंग थी। नवीन पटनायक एक साफ सुथरी छवि के व्यक्ति है ,जो की 2009 से उड़ीसा के मुख्यमंत्री हैं। वे शाशन को भ्रष्टाचार मुक्त और पारदर्शी बनाने के किए जाने जाते हैं । नवीन पटनायक नेशनल ट्रस्ट फॉर आर्ट्स अँड कल्चरल हेरिटेज के संस्थापक सदस्य भी हैं। पटनायक के शुरुवाती दिन उड़ीसा से बाहर ही व्यतीत हुए, जिसके कारण उड़िया भाषा समझने व बोलने में उन्हे काफी दिक्कत हुई । नवीन पटनायक भारत के एकमात्र ऐसे मुख्यमंत्री हैं जिन्हें अपने राज्य की क्षेत्रीय भाषा का अच्छा ज्ञान नहीं है, इस कारण से उनके विरोधी उनकी आलोचना भी करते हैं। किन्तु नवीन पटनायक को हिन्दी, अग्रेज़ी और फ्रेंच भाषा में महारत हासिल है। इन्हें सर्वाधिक प्रसिद्ध मुख्यमंत्री के रूप में इंडिया टूड़े मैगजीन द्वारा चिन्हित किया गया है। 2017 में आउटलूक मंगजीन द्वारा उन्हे श्रेष्ठ प्रशाशक का अवार्ड भी दिया गया। भारतीय जनता पार्टी के साथ नवीन पटनायक की पार्टी ने 2004 में राज्य विधान सभा चुनाव भारी मतों से जीता था, किन्तु 2007 के कंधमाल जिले के हिंसा के कारण भारतीय जनता पार्टी और नवीन पटनायक की पार्टी में अलगाव हो गया । 2009 में बीजू जनता दल NDA गठबंधन से अलग हो गया। इसके बाद 2009 और 2014 के विधान सभा और लिकसभा चुनाव में नवीन पटनायक की पार्टी को लगातार विजय हासिल हुई है। नवीन पटनायक अभी तक अविवाहित है और उड़ीसा में सर्वाधिक समय तक मुख्यमंत्री रहने वाले व्यक्ति बन गए हैं। नवीन पटनायक की सरकार हाल के वर्षो में  कई विवादों में घिरी रही है। इन विवादों में खनन घोटाला और चिट फ़ंड घोटाला प्रमुख है। भ्रष्टाचार के इन आरोपों के बावजूद नवीन पटनायक की लोकप्रियता बरकरार है।

भ्रष्टाचार के आरोपों के बावजूद  रही लोकप्रियता बरकरार

Navin Patnaik Biography via:odishastory.com

उन्होने डेसर्ट किंग्डम , अ सेकंड पैराडाइज , द  गार्डेन ऑफ लाइफ नामक पुस्तकें लिखी हैं। नवीन पटनायक भारतीय संस्कृति एवं परम्पराओं के प्रति विशेष लगाव रखते है , उनकी विचार धारा आधुनिक है । उड़ीसा के विकास में नवीन पटनायक ने बहुत योगदान दिया है। उड़ीसा मे गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों के उत्थान के लिए भी उन्होने काफी कार्य किया है, उड़ीसा राज्य की आर्थिक स्थिति को भी उन्होने सुधारा है। हथकरघा बुनकरों को अंतर्राष्ट्रीय मंच दिलाने तथा भारतीय डिजाइनों को अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलाने के लिए किए गए कार्यों के लिए उनके कार्य को हमेशा याद किया जाएगा । उनकी बहन गीता मेहता विश्व प्रसिद्ध लेखक हैं। नवीन पटनायक ने सांस्कृतिक और पर्यावरण से संबन्धित पत्र पत्रिकाओं में नियमित रूप से लेख लिखे हैं। हाल ही में नवीन पटनायक की जीवनी प्रकाशित की गयी है जिसे आउटलूक के संपादक रूबेन बनर्जी ने लिखा है। नवीन पटनायक ऐसे प्रथम मुख्यमंत्री हैं जिन्होंने उड़ीसा के मुख्यमंत्री पद को लगातार चौथी बार ग्रहण किया है। नवीन पटनायक उड़ीसा में काफी प्रसिद्ध हैं ,उड़ीसा के दूरदराज़ के क्षेत्रों में भी उनके द्वारा किए गए कार्यों के कारण उनकी पार्टी बीजू जनता दल को क्षेत्रीय चुनाव में भी काफी सफलता मिलती है, किन्तु उड़ीसा मे इस सफलता के पीछे नवीन पटनायक की कठिन मेहनत और समाज के सभी वर्गों के लिए किए गए कार्य हैं । अपने लोकप्रिय कार्यों के कारण ही नवीन पटनायक इतने लंबे समय से शाशन के गलियारों में अपनी पकड़ बनाए हुए है । उड़ीसा के हथकरघा और लघु उद्योगों को बढ़ावा देने मे नवीन पटनायक ने अहम भूमिका निभाई है, ये उद्योग जो पहले काफी बुरी अवस्था में थे अब सरकार के द्वारा शुरू की गयी योजनाओं के कारण नयी पहचान बना रहे हैं। इससे राज्य की अर्थव्यवस्था को भी काफी लाभ पहुचा है। नवीन पटनायक के कार्य काल में ही उड़ीसा के पर्यटन को भी एक नयी दिशा मिली है ।  इस राज्य की पर्यटन से होने वाली आय पहले के मुक़ाबले कई गुना बढ़ गयी है। भारतीय राजनीति में अपनी एक अलग पहचान बनाने वाले नवीन पटनायक शांत प्रकृति के व्यक्ति हैं। एक साधारण जीवन व्यतीत करने वाले नवीन पटनायक आने वाले भविष्य में उड़ीसा को विकास की  किन ऊंचाइयों तक ले जाएंगे यह तो वक़्त ही बताएगा किन्तु उनके लगातार मुख्यमंत्री बने रहने से एक बात तो स्पष्ट हो जाती है की उड़ीसा की जनता उनपर विश्वास करती है।


नवीन पटनायक जीवनी | Navin Patnaik Biography in Hindi