×

सिर्फ 21 साल की उम्र में खड़ी कर दी 360 करोड़ की कंपनी । Ritesh Agarwal Success Story In Hindi

सिर्फ 21 साल की उम्र में खड़ी कर दी 360 करोड़ की कंपनी । Ritesh Agarwal Success Story In Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-12 months ago
+

रितेश अग्रवाल की सफलता की पूरी कहानी | Ritesh Agarwal Success Story In Hindi

दोस्तों आज हम बात करेंगे ऐसे सख्श की जिसने 21 साल की उम्र में वो मुकाम हासिल कर लिया जो बड़े-बड़े बिजनेस मैन नहीं कर पाते है। दोस्तों बिजनेस हर किसी के बस की बात नहीं है उसके लिए आपके पास तेज दिमाग भी जरुरी है। दोस्तों आप जब भी कोई बिजनेस स्टार्ट कर रहे है तो आपको मार्केटिंग का ज्ञान होना बहुत जरुरी है। बिजनेस करते समय कई समस्याएं आपके सामने  आती है उनसे लड़ने और उनको सुलझाने का हुनर होना बहुत जरुरी है। ये सारी बाते सिखने के लिए आपकी आधी उम्र गुजर जाएगी। तब जा कर आपका नाम बिजनेस की लिस्ट में जुड़ेगा। लेकिन दोस्तों इन सब बातो को एक सख्श ने झूठा साबित कर मात्र 21 साल की उम्र में अपनी खुद की कंपनी बनाई  और पूरी दुनिया में अपने नाम और कंपनी को फेमस बना दिया। दोस्तों अब आगे जानेगे इस सख्श की पूरी कहानी।

रितेश अग्रवाल का बचपन एवं परिवार | Ritesh Agarwal Family

Ritesh Agarwal

Source bsmedia.business-standard.com

दोस्तों उस सख्श का नाम है Ritesh Agarwal , रितेश ने ही OYO Rooms की कंपनी बनाई और वो इस कंपनी फाउंडर और सीईओ है। Ritesh Agarwal का जन्म कटक ओडिसा में एक मध्यम वर्ग परिवार में हुआ था। रितेश की छोटी फॅमिली थी। उनके घर में कुल 5 सदस्य थे माता-पिता और तीन भाई बहन, रितेश के पिताजी एक इंफ्रास्ट्रक्चर काप्रोरेशन कंपनी में काम करते थे। रितेश भी अपने पिताजी के साथ काम करते थे। रितेश ने अपनी शुरुआती शिक्षा Sacred Heart School से पूरी की। रितेश ने इंटरमीडिएट की शिक्षा पूरी करने के बाद वो आगे की पड़े के लिए दिल्ली चले और वहा दिल्ली के "Indian School Of Business and Finance " में प्रवेश ले लिया रितेश ने अपने बिजनेस को शुरू करने के लिए अपनी आगे की पढ़ाई भी पूरी नहीं की और कॉलेज बिच में ही छोड़ दिया और अपने बिजनेस को आगे ले जाने में लग गए। Ritesh Agarwal  बचपन से ही इन महान लोगो की नीतियों से प्रेरित थे बिल गेट्स ,स्टीव जॉब्समार्क जुकरबर्ग , रितेश आज उन युवाओ के लिए प्रेरणा बन गए है जो जल्द ही हार मान लेते है और निराश हो जाते है। रितेश ने 17 साल की छोटी उम्र में अपना बिजनेस किया जो बहुत ही काम लोग कर पाते है।

कैसे हुई योयो रूम की शुरुआत | How the Yooyo Room Begins

Ritesh Agarwal

Source static.businessworld.in

दोस्तों रितेश को घूमने का बहुत शौक था। रितेश भारत के साथ दुनिया के कई शहरो में घूम चुके है। अपने सफर के दौरान रितेश को सबसे ज्यादा मुश्किल ये आयी की वो जहाँ भी घूमने गए तब उन्हें कही भी एक अच्छी ठहरने की व्यवस्था नहीं मिली। कई होटल इतने चार्ज लेने के बावजूद भी कोई ढंग की व्यवस्था नहीं दे पाते थे। इन सब को देख कर रितेश के दिमाग में आईडिया आया क्यों न लोगो को ऑनलाइन रूम्स अच्छे रूम की व्यवस्था दी जाये। इसी विचार को ले कर रितेश ने Oravel Stays Pvt. Ltd. इस प्लेटफार्म में आप जहाँ भी जाते हो वहां आपको Hotel की लोकेशन दिखाता है। और लोगो के बचत के अनुसार रूम उपलब्ध करवाता है। साल 2013 में रितेश ने अपनी कंपनी नाम Oravel Stays बदल कर OYO Rooms रख दिया। इसमें कस्टमर की सभी जरूरतों का ध्यान रखा जाता है। और इसमें कस्टमर को ब्रैकफास्ट फ्री में दिया जाता है।

रितेश अग्रवाल की उपलब्धियां | Ritesh Agarwal Achievements

Ritesh Agarwal

Source officialoyoblog.s3.amazonaws.com

रितेश अग्रवाल का नाम फोर्ब्स लिस्ट में टॉप 30 लोगो में नाम आया जो कस्टमर सेक्टर में काम करते है । रितेश अग्रवाल को कई सारे अवार्ड मिले है

  • “Top 50 entrepreneurs in 2013 by TATA First Dot Powered by NEN Awards”,

  •  “8 Hottest Teenage startup founders in the World by Business Insider”, 

  • “TiE-Lumis Entrepreneurial Excellence Award in 2014”, “ Business World Young Entrepreneur Award in 2015”.

रितेश के शुरुआती संघर्ष | Ritesh Agarwal OYO Rooms

Ritesh Agarwal

Source i2.wp.com

रितेश ने इस कंपनी की शुरुआत करने के लिए सबसे पहले 6000 जमा कर 2011 में ऑरवेल कंपनी की शुरुआत की रितेश ने गुडगाँव में एक होटल से की, रितेश के पास पैसो की कमी थी तब उन्हें टॉप -20 Thiel Fellowship के बारे में पता चला जैसे Paypal कंपनी के फाउंडर  पीटर थिएल ने शुरू किया था।
इस फेलोशिप में 20 साल के लोगो को चुना जाता था। और उन्हें $1,00,000 डॉलर की रकम दी जाती थी। इस बारे में जानकर रितेश ने इसमें आवेदन किया और इसमें रितेश का चयन हो गया। दोस्तों रितेश Thiel fellowship में शामिल होने वाले देश के पहले व्यक्ति थे। इस राशि से रितेश ने अपनी कंपनी को OYO Rooms एक अलग मुकाम पर पंहुचा दिया था।

दोस्तों आज OYO Rooms का नाम देश काफी फेमस है। दोस्तों ये सब रितेश अग्रवाल की मेहनत से ही मुमकिन हो पाया है। दोस्तों मात्र 21 साल की उम्र में बिजनेस मैन बनना एक बहुत बड़ी बात है