×

'Helly taxi' आपको मात्र 20 मिनट में पहुंचा देगी चंडीगढ़ से शिमला, ये है इसकी खासियत... 

'Helly taxi' आपको मात्र 20 मिनट में पहुंचा देगी चंडीगढ़ से शिमला, ये है इसकी खासियत... 

In : News By storytimes About :-1 year ago
+

'Helly taxi' आपको मात्र 20 मिनट में पंहुचा देगी चंडीगढ़ से शिमला, ये है इसकी खासियत...

सोचिए, आप चंडीगढ़ घूमने गए हैं, ऐसे में आपका मन शिमला में भी घूमने को करता है लेकिन दूरी और वक्त की कमी के चलते आप अपना इरादा बदलने को मजबूर हो जाते हैं। ऐसा अब नहीं होगा यानि आपको इन वजहों से तो चंडीगढ़ से शिमला की ट्रिप कैंसिल नहीं करनी पड़ेगी। आप चंडीगढ़ से शिमला अब 20 मिनट में पहुंच सकेंगे। 

source

पवनहंस कंपनी और हिमाचल प्रदेश सरकार मिलकर शिमला से चंडीगढ़ के बीच हेली टैक्सी की शुरुआत करने जा रहे हैं। फिलहाल दोनो शहरों के बीच कोई एयर कनेक्टिविटी नहीं है।  कुछ साल पहले शिमला और चंडीगढ़ के बीच में इस तरह की सेवा शुरू(Service started) की गई थी लेकिन कुछ समय(time) बाद इसे बंद कर दिया गया था। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर 4 जून को शिमला में दोनो शहरों के बीच हेली टैक्सी सेवा की शुरुआत करेंगे। 

हफ्ते में दो बार मिलेगी सर्विस

source

शुरुआत में यह सेवा प्रत्येक सोमवार और शुक्रवार को उपलब्ध रहेगी। हेलिकॉप्टर सुबह 8 बजे शिमला के जुबरहट्टी एयरपोर्ट से उड़ान भरेगा जो 8।20 पर चंडीगढ़ एयरपोर्ट पहुंच जाएगा। इसी तरह जो लोग चंडीगढ़ से शिमला जाना जाते हैं उनके लिए हेलिकॉप्टर 9 बजे चंडीगढ़ से उड़ान भरेगा और 9।20 पर शिमला पहुंच जाएगा।

इतना होगा किराया

source

शिमला से चंडीगढ़ के बीच उड़ान भरने वाले हेलिकॉप्टर में करीब 20 सीटे होंगी और इसका किराया 2999 रुपए होगा। यात्रियों की सुविधा के लिए शिमला के जुबरहट्टी एयरपोर्ट पर हिमाचल प्रदेश टूरिज्म की डीलक्स बसें उपलब्ध होंगी।

6 घंटे की दूरी अब 20 मिनट में

शिमला और चंडीगढ़ के बीच सड़क के रास्ते से जाते हैं, तो करीब 3: 30 घंटे का समय लगता है और टॉय ट्रेन के जरिए जाते हैं तो 5-6 घंटे लगते हैं यह काफी थकाने वाला सफर होता है।

सबसे खास बात ये है कि करीब 15 साल पहले इसी तरह की टैक्सी सर्विस शिमला से चंडीगढ़ के बीच शुरू की गई थी। उस समय इसका किराया 2500 रुपए था लेकिन यह पर्याप्त संख्या में पर्यटकों को खींचने में असफल रही थी, जिस वजह से सर्विस को बीच में ही बंद कर दिया गया था।