×

व्हाट्सएप्प ग्रुप से साड़ियां बेचकर महिला कमा रही है लाखो रूपये | Whatsapp Saree Business In Hindi

व्हाट्सएप्प ग्रुप से साड़ियां बेचकर महिला कमा रही है लाखो रूपये | Whatsapp Saree Business In Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-9 months ago
+

व्हाट्सएप्प पर ग्रुप पहली बार बिकी थी महज 20 साड़ियां आज कर कर रही है करोड़ो टर्नओवर | Whatsapp Saree Business Success Story

दोस्तों आज सभी लोगो के हाथ में मोबाइल होता है और उस मोबाइल में व्हाट्सएप्प जरूर होता है। सभी व्हाट्सएप्प के जरिये अपने फ्रेंड और परिवार के लोगो से बात करने में इस्तेमाल करते है दोस्तों आज हर इंसान पुरे दिन में अपने दो से तीन घंटे व्हाट्सएप्प मेसेज भेजने और पढ़ने में ख़राब करता है। लेकिन दोस्तों इसी ऐप का दिमाग से इस्तेमाल करे तो महीने के लाखो रूपये कमा सकते है.

आपको सुनकर थोड़ा अजीब लगा होगा की यार मुझे तो व्हाट्सएप्प चलाते काफी टाइम हो गया मैने तो आज तक एक रुपया नहीं कमाया लेकिन दोस्तों चेन्नई की एक महिला शनमुगा प्रिया जिन्होंने व्हाट्सएप्प का सही इस्तेमाल कर आज करोडो रूपये कमा रही है। आज वे व्हाट्सएप्प के जरिये ऑनलाइन साड़ी बेचने का बिजनेस कर रही है। गत वर्ष  उनका टर्नओवर लगभग 2.4 करोड़ रुपये रहा आज शनमुगा प्रिया व्हाट्सएप्प के जरिये भारत में ही नहीं विदेशो में भी साड़ियां  सप्लाई कर रही है.

इस तरह की काम की शुरुआत

Whatsapp Saree Business Success

Source www.kenfolios.com

शुरुआत में ये काम प्रिया की सास करती थी वो घर-घर में जाकर साड़ियां बेचने का काम करती थी। और ये काम पूरा होने के बाद घर का ध्यान रखती थी क्योंकि उस समय प्रिया एक प्राइवेट कंपनी में  जॉब करती थी। लेकिन सास की मौत के बाद घर की सारी जिम्मेदारियां प्रिया के ऊपर आ गई इस वजह से प्रिया ने अपनी जॉब भी छोड़ दी और घर में रहकर घर की जिम्मेदारियां निभाने लगी  घर के सभी काम जल्दी पुरे होने के बाद प्रिया के पास कोई काम नहीं था इस कारण उन्होंने सोचा की क्यों ना अपने सास के काम को वापिस से शुरू करे.

दोस्तों जब प्रिया ने अपनी सास के साड़ी के काम को शुरू किया तब वो साड़ियों से भरे बैग को लेकर उन्हें बेचने जाती थी। जब भी वो बैग में साड़ियां बेचने निकलती तब उन पर कई लोग हँसते और ये काम प्रिया को ना करने की सलाह देते लेकिन दोस्तों जब इंसान  किसी कार्य को करने में जी जान लगा देता है तब उसे ऐसे तानो और बेकार की सलाह से कोई फर्क नहीं पड़ता ऐसा ही प्रिया ने किया और हार नहीं मानी.

कार्य की शुरुआत में उनके पास ज्यादा ग्राहक नहीं थे प्रिया बस अपने मोहल्ले और आस-पास के घरो में ही साड़ी बेचती थी। लेकिन धीरे-धीरे ये काम बढ़ने लगा प्रिया ने इस काम के लिए व्हाट्सएप्प के इस्तेमाल किया उन्होंने साल 2014 में पहली बार व्हाट्सएप्प पर एक ग्रुप बनाया और इस ग्रुप के माध्यम से 20 साड़ियां सेल की अपने काम को बढ़ता देख प्रिया अपने काम के लिए कुछ लोगो की टीम बनाई और अपने घर की छत इस कार्य के लिए एक गोदाम बना दिया ये उन लोगो के लिए बनाया गया था जिन्हें साड़ी का सैम्पल देखना हो.

20 साड़ियों से हजारो तक का पूरा सफर

प्रिया ने अपने पहले व्हाट्सएप्प ग्रुप के जरिये 20 साड़ियां बेचने के बाद उनका होंसला और बढ़ा और उन्होंने व्हाट्सएप्प पर और भी ग्रुप बनाये और अपनी साड़ियों के प्रमोशन को जारी रखा धीरे-धीरे उनका ये बिजनेस पुरे मार्केट में फैल गया और काफी लोग जुड़ने के कारण पैसे भी आने लगे दोस्तों प्रिया ने साल 2016-17 में  कुल 2.4 करोड़ से भी अधिक का बिजनेस किया. प्रिया ने बताया की " त्योहारों के समय उनके पास सबसे अधिक आर्डर आते है और उसी समय वो सबसे ज्यादा कमाई करती है.

Whatsapp Saree Business Success

Source images.yourstory.com

त्योहारों के अलावा भी प्रिया दिन की 90-100 साड़ियां बेचती है। त्योहारों के समय ये सेल ज्यादा होती है आज प्रिया की महीने की औसत कमाई लगभग 12 से 15 लाख महीने है.

प्रिया अपने बिजनेस में रिटेलर को साड़ी बेचने पर वो इसे 10 % प्रॉफिट के साथ और अपने माल को थोक से सेल करने पर वो 7% के साथ बेचती है। आज प्रिया अपने इस बिजनेस को भारत ही नहीं विदेशो में भी चला रही है और हर महीने कई आर्डर विदेश भेजती है.

प्रिया आज कहती की " मैने अपने इस कार्य की शुरुआत 20 साड़ियों से की थी और ये आकड़ा बढ़कर आज हजारो में हो गया है । प्रिया ने व्हाट्सएप्प पर अपने बिजनेस में सफलता मिलने के बाद उन्होंने अन्य सोशल मीडिया का भी साथ लिया और फेसबुक से भी अपने इस बिजनेस को प्रमोट किया इससे भी प्रिया का अच्छा रिस्पांस मिला और उनके पास और अधिक आर्डर आने लगे प्रिया आज व्हाट्सएप्प पर कुल 11 ग्रुप का संचलान कर रही है.

प्रिया ने अपनाया व्यापार में अलग तरीका

Whatsapp Saree Business Success

Source cdn3.mycity4kids.com

प्रिया आज अपने कारोबार को अलग तरीके से करती है। जो लोग प्रिया से थोक के हिसाब से माल खरीदते है और उन्हें माल पसंद नहीं आता है तो वो उन्हें पैसे वापस लोटा देती है और साथ अपने व्यापार को आगे बढ़ाने के लिए उधार भी देती है इस कारण वो ग्राहक हमेशा प्रिया से जुड़े रहते है। प्रिया का मानना है की ऐसा करना मार्केट में आज जरुरी भी है प्रिया के पास आज काफी लोगो की टीम है जो लगातार अच्छा काम कर रही है.

दोस्तों प्रिया की इस सफलता की कहानी से आज हमें एक सीख मिलती है की हम सोशल मीडिया का सही प्रयोग करे तो इससे काफी कुछ हासिल किया जा सकता है जिसे दुनिया सिर्फ समय की बर्बादी मानती है प्रिया ने उसका सही उपयोग कर आज दुनिया को एक सीख दी है.