×

यदि आपने नहीं बदली अपनी ये आदते तो हो जाएगी आपके लिए ये समस्या तैयार...

यदि आपने नहीं बदली अपनी ये आदते तो हो जाएगी आपके लिए ये समस्या तैयार...

In : HEALTH AND FITNESS By storytimes About :-1 year ago
+

Health And Fitness news in hindi

क्या आपको पता है ऑफिस में बैठना आप के लिए स्मोकिंग (Smoking) करने कि तरह हो सकता है.अगर आप उनमें से हैं जो ऑफिस में लम्बा वक्त गुजारते हैं तो आपको कैंसर तक हो सकता है. जी हाँ ये सच है. लेकिन आप सुन के हैरान हो जाएंगे कि आपकी रोजमर्रा कि आदतें जिनकी तरफ आप ध्यान भी नहीं देते हैं वो आपके लिए कितनी खतरनाक हों सकती हैं. हो सकता है की सभी चीजें सीधे आपके DNA पर असर ना करें. लेकिन कभी-कभी वो सेल्स पर इस हद तक असर कर सकती हैं कि उनसे कैंसर तक हो सकता है.

ऐसी 6 आदतें हैं जिनसे बचने की कोशिश करें.

*प्रोसेस्ड रेड मीट

via

इतना तो आप समझ ही गए होंगे की प्रौसेस्ड गोश्त से कैंसर (Cancer) हो सकता है. और लाल गोश्त से इसकी संभावना बढ़ जाती हैं. लेकिन आप इस बात से दुखी हो कर बिल्कुल ये अन्दाजे  ना लगाएं. कि आप को जितनी चीजें पसंद हैं उन्हें खाने से कैंसर हो सकता है. ऐसा बिल्कुल नहीं है. आइए जानते हैं कैंसर होने कि क्या-क्या वजह हो सकती हैं. हर 50 ग्राम प्रौसेस्ड गोश्त से 18 प्रतीशत तक कोलोन कैंसर का खतरा बढ़ जाता है. विश्व स्वास्थय संगठन (WHO) ने कैंसर पर अंतर्राष्ट्रीय एजेंसी फॉर रिसर्च के 22 वैज्ञानिकों के विभिन्न देशों के 800 से अधिक अध्ययनों का मूल्यांकन किया.और इस नतीजे पर पहुंचा है, फिर भी यह इतना हैरान करने वाला नहीं है क्योंकी यह हमेशा से सबको मालूम है कि प्रौसेस्ड गोश्त (Processed meat) में सोडियम और फैटी एसिड की मात्रा बहुत अधिक होती है. लेकिन फिर भी प्रौसेस्ड गोश्त से कैंसर का खतरा कैसे हो सकता है ये समझ से बाहर है.

*केमिकल

via

पेराबिन्स केमिकल मेकअप के प्रोडक्ट में इस्तेमाल होता है | स्तन कैंसर होने वाली 99% महिलाओं के शरीर में पेराबिन्स Chemical पाया जाता है. केमिकल तो बहुत सारे होते है.लेकिन पेराबिन्स केमिकल मेकअप के प्रोडक्ट में इस्तेमाल होता है जो आपके खुन में मिल कर आपकी रगों में दौड़ता है और धीरे-धीरे कैंसर कि वजह बनता है. मेकअप के सामान में बड़ी मात्रा में एल्मुनियम (Aluminum) का हिस्सा पाया जाता है. रिसर्च के अनुसार मेकअप के सामान में बड़ी मात्रा में एल्मुनियम का हिस्सा पाया जाता है.जो शरीर के लिए बहुत ही नुकसानदेह है.यहाँ तक कि डियोडोरेन्ट चुहों के रिर्पोडक्टिव ऑर्गन पर असर डालते हैं. ज्यादातर स्किन केयर प्रोडक्टस् में पैराबेन (Paraben) केमिकल पाया जाता है.जो एस्ट्रोजेन की तरह मांसपेशियां को खत्म कर सकता है.और खतरनाक ट्युमर तक बना सकता है.

*शराब

via

ब्रिटेन के नए आहार निर्देश में साफ रूप से कहते हैं. कि शराब का स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है. इसलिए इसे पीने की हिमायत नहीं की जा सकती. 20 वर्षों (years) में इस तरह का ये पहला फरमान है. जानकार खुले रूप में इसकी चेतावनी दे रहे हैं .शराब कम पीना या ज्यादा दोनों ही सेहत के लिए खतरनाक (Danger) हो सकता है. जबकि कुछ साल पहले तक यह मानना था कि शराब (wine) की थोड़ी मात्रा 40 से अधिक पुरुषों और महिलाओं में दिल की बीमारी का खतरा कम कर सकती है. और उसमें भी रेड वाइन. लेकिन अब जानकारों कि ये राय बदल चुकी है.

*सूरज की किरणें

via

एक जमाना था जब ये कहा जाता था कि जाड़ों में धुप में बैठना विटामिन D का बेहतरीन स्रोत है. लेकिन  क्या आप  जानते हैं कि सूरज (Sun) कि किरणें भी आपके लिए कितनी खतरनाक (Danger) हों सकती हैं. सूरज की किरणों में अल्ट्रावॉयलेट रैडियेशन पाया जाता हैं. जिनसे कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है. मेलेनोमा नाम का कैंसर ज्यादातर सूरज की किरणों कि वजह से होता है. ये जानलेवा स्किन कैंसर है जो शरीर (body) के दूसरे हिस्सों में भी फैल सकता है .

*नाइट शिफ्ट में काम करना

via

जानकारों के अनुसार, 9 से 5 तक काम करने वाली महिलाओं की तुलना में रात की शिफ्ट करने वाली महिलाओं में दिल की बीमारी, कैंसर और स्ट्रोक से मरने का बहुत खतरा होता है. अमेरिका में वैज्ञानिकों ने एक अध्धयन में पाया कि 5 या अधिक वर्षों तक कभी रात कभी दिन बदल बदल कर Night शिफ्ट करने वाले लोगों को दिल की बीमारियों और कैंसर से मृत्यु का खतरा बढ़ गया था. रात में केवल 5 साल तक काम करने पर कैंसर की संभावना 11% बढ़ सकती है.

*डीजल

via

विश्व स्वास्थ्य संगठ(WHO) के अनुसार डीजल से चलने वासे इंजन (Engine)से निकले धुएं से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है.शोध से पता चला है कि डीजल के धुएं के नियमित संपर्क से फेफड़ों के कैंसर का खतरा बढ़ता है. जानकारों के अनुसार यह चेन स्मोकर होने से भी ज्यादा खतरनाक है.