×

ऑनलाइन फ़ूड कंपनी Zomato की सफलता की पूरी कहानी | Zomato Success Story In Hindi

ऑनलाइन फ़ूड कंपनी Zomato की सफलता की पूरी कहानी | Zomato Success Story In Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-7 months ago
+

दोस्तों आज बदलते दौर और हर कार्य की बढ़ती प्रतिस्पर्धा के कारण आज वही व्यक्ति लोगो की भीड़ से जीत पाता है जिसमे हमेशा कुछ अलग सोचने और करने की ताकत हो साथ ही एक सामान्य इंसान से एक कदम आगे चलता हो एक बार अपनी मंजिल को पाने की चाह होने के बाद फिर कभी पीछे मुड़कर ना देखे और लगातार अपनी मंजिल को पाने के लिए प्रयास करता रहे दोस्तों आज हमारे पास ऐसी ही एक सक्सेस स्टोरी है ऑनलाइन फ़ूड डिलीवर करने वाली कंपनी जोमैटो की दोस्तों आप भी अब तक कई बार जोमैटो से फ़ूड आर्डर कर चुकें होंगे और कई बार सोचते होंगे की यार इस बिजनेस के पीछे दिमाग किसका था जिसका दिमाग इतना तेज काम करता है आज जोमैटो ऑनलाइन फ़ूड डिलवरिंग में भारत की सबसे टॉप कंपनियों में से एक है और लोगो को घर बैठे उनकी मनपसंद का खाना पहुंचाने के पीछे दिमाग था जोमैटो के फाउंडर दीपेंद्र गोयल और को फाउंडर पंकज चड्डा का था तो चलिए दोस्तों आगे जानते है जोमैटो की शुरुआत और सफलता के बारे में

दोस्तों इस कहानी  की शुरुआत होती है पंजाब से मुक्तसर जहां दीपेंद्र गोयल का जन्म हुआ दीपेंद्र गोयल का जन्म एक शिक्षित परिवार में हुआ था उनके माता और पिता दोनों ही शिक्षक थे और यही कारण था की दीपेंद्र गोयल के घर में पढ़ाई के प्रति काफी सतर्कता थी और बचपन से मेथ्स में काफी होशियार होने और स्कूली शिक्षा पूर्ण करने के बाद उनका एडमिशन दिल्ली की IIT कॉलेज में हो गया साल 2005 में दीपेंद्र गोयल ने IIT दिल्ली मैथ इन कंप्यूटिंग में इंटीग्रेटेड में MBA की डिग्री प्राप्त की IIT कॉलेज से अपनी ये डिग्री पूर्ण करने के बाद दीपेंद्र एक कॉन्स्टलिंग फर्म "Bain @ compny" में एक कॉन्स्टेंट नौकरी करने लग गए दोस्तों दीपेंद्र यह नौकरी तो कर रहे थे लेकिन उनका आईआईटीयन दिमाग लगातार कुछ अलग करने के बारे में सोच रहा था दोस्तों अंग्रेजी में एक कहावत है "Great Idea Comes From Great Coffee" यानी "महान विचार महान कॉफी से आता है" और यही कहानी हुई दीपेंद्र गोयल के साथ अपने ऑफिस लंच के दौरान जब सभी एम्प्लॉई खाने का मेन्यु चेक करने के लिए एक लंबी कतार में लगे हुए सभी अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे और इस पूरी प्रक्रिया में उनका काफी ज्यादा समय ख़राब हो जाता था

Zomato Success Story In Hindi

Source images.livemint.com

तब ऑफिस की इस लंबी कतार को देख कर दीपेंद्र गोयल के आईआईटीयन दिमाग में एक बेहतरीन आईडिया आया की क्यों ना एक ऐसे एप्प को डवलप किया जाये जो किसी भी शहर में लोगो को उनके शहर के सभी रेस्टोरेंट से जोड़ सके और ऑनलाइन उनके घर तक उनके मनपसंद का खाना पंहुचा सके और जब उन्होंने अपने इस आईडिया के बारे में को फाउंडर पंकज चड्डा को बताया तब पंकज चड्डा ने उनके इस आईडिया की काफी तारीफ और उनके इस बिजनेस में उनके साथ काम करने का वादा किया साल 2008 में कंपनी में कार्य करते हुए दीपेंद्र और पंकज चड्डा ने एक ऑनलाइन फ़ूड पोर्टल Foodiebay. com की शुरुआत की

दोस्तों दीपेंद्र और पंकज चड्डा द्वारा बनाई गई इस वेबसाइट का मुख्य उद्देश्य था कस्टमर को उसके शहर के बेस्ट रेसटोरेन्ट की लोकेशन उसकी कीमत और कितने लोग इसे पसंद करते है इसी के आधार पर रेस्टॉरेंट को सर्च कर कस्टमर तक पहुंचना उनकी इस वेबसाइट को साल 2009 तक काफी अच्छा रेस्पॉन्स मिला और काफी लोग Foodiebay. com के माध्यम से रेस्टोरेंट सर्च करने लगे लेकिन दीपेंद्र अपने इस आईडिया को थोड़ा और आगे ले जाना चाहते थे लेकिन तब उनके पास पैसो की कमी पड़ गई लेकिन उन्हें सबसे बड़ी राहत तब मिली जब उनकी पत्नी की जॉब दिल्ली युनिवर्सिटी में नौकरी मिल गई तब उन्होंने अपने बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए पत्नी से आर्थिक मदद ली और उन्होंने अपने इस कार्य को आगे बढ़ाने के लिए अपनी जॉब छोड़ दी और आगे अपना पूरा फोकस अपने इस बिजनेस की तरफ लगा दिया

Zomato Success Story In HindiSource www.hindustantimes.com

दीपेंद्र ने अपने इस बिजनेस को आगे बढ़ाने में सबसे पहले शुरुआत करते हुए Foodiebay. com नाम से कंपनी का नाम Zometo रख दिया दीपेंद्र द्वारा कंपनी का नाम बदलने के पीछे दो मुख्य वजह थी पहली वो कंपनी का नाम खाने पिने की चीजों के समान रखना चाहते थे दूसरा की नाम ऐसा हो की जो बोलने फटाक से मुँह से निकल जाये और दोस्तों इस तरह जो आज हमारे लिए घर बैठे भोजन उपलब्ध करवाने वाली ऑनलाइन फ़ूड कंपनी Zomato का निर्माण हुआ दोस्तों आज Zomato भारत की नंबर 1 ऑनलाइन फ़ूड डिलवरिंग कंपनी है 

अब दोस्तों आपको Zomato की सफल होने के की कहानी थोड़ी आसान लग रही होगी आपको ये सब आसान लग रहा होगा लेकिन ऐसा नहीं है एक सफल बिजनेस करने के लिए कही कड़े फैसले लेने पड़ते है जैसे दीपेंद्र ने अपने इस बिजनेस के लिए किया पहला उन्होंने अपनी लाखो की पैकेज वाली नौकरी छोड़ी और दूसरा अपने बिजनेस को शुरू करने के लिए पैसे जमा किया और अपने इस काम को करने के लिए ऑफिस के लिए सही एम्प्लॉय का चुनाव करना भी  उनके लिए एक चुनौती थी शुरुआत में अपने इस बिजनेस को मार्केट में लाने के लिए उन्होंने कई सारे इवेंट्स किये जो सभी फेल हो गए 

Zomato Success Story In Hindi

Source static-news.moneycontrol.com

लेकिन इन सब परेशानियों के बावजूद सितंबर 2012 में Zomato का पहला इंटरनेश्नल ऑपरेशन लॉन्च हुआ और तब उनकी कंपनी की पहुंच हिन्दुस्तान के कुल 12 शहरो में ही थी लेकिन दोस्तों दीपेंद्र ने इस बारे में कभी नहीं सोचा था की उनकी कंपनी इतने कम समय में देश के 155 शहरो और दुनिया के करीब 19 देशो में उनके बिजनेस का विस्तार हो जायेगा दोस्तों अब तक आप Zometo से फ़ूड आर्डर कर काफी खुश होते थे लेकिन आज हमने आपको इसकी सक्सेस की जानकारी दे कर खाने का स्वाद दोगुना कर दिया है.

Read More - SWIGGY एक सफल स्टार्टअप जो पहुंचाता है मनपसंद खाना आपके घर तक