×

कवि कुमार विश्वास जीवन परिचय | Kumar Vishwas Biography in Hindi

कवि कुमार विश्वास जीवन परिचय | Kumar Vishwas Biography in Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-12 months ago
+

पैसे की बचत करने के लिए ट्रक से लिफ्ट ले कर आते थे घर आज एक शो की कीमत है लाखो रूपये | Kumar Vishwas Life Story In Hindi, Kumar Vishwas Family

  • नाम - कुमार विश्वास
  • जन्म दिनांक - 10 फ़रवरी 1970 उम्र 48 साल 
  • जन्म स्थान - पिलखुवा उत्तरप्रदेश
  • पिता का नाम - चंद्रपाल शर्मा
  • माता का नाम -  रमा शर्मा 
  • शिक्षा - चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय
  • पत्नी का नाम - मंजू शर्मा
  • संतान के नाम - अग्रता विश्वास ख़ुसू विश्वास (बेटियां)
  • व्यवसाय - कवी
  • राजनीतिक पार्टी -आम आदमी पार्टी

दोस्तों आज हम ऐसी शख्सियत के जीवन के बारे में आपको बताने वाले है जिन्होंने अपने करियर की शुरुआत ऐसे हालातों में की जब उन्हें अपने परिवार और अपनी इच्छा के बीच में कुछ चुनना था। वे खुद इस बात से अनजान थे की उनके द्वारा लिया गया फैसला उन्हें इस मुकाम तक ले आएगा .दोस्तों हम बात कर रहे है देश के जाने-माने कवि डॉ कुमार विश्वास के बारे में दोस्तों आज के इस मोर्डन ज़माने में भी कुमार विश्वास ने अपनी कविताओं से लोगो को अपना फैन बना रखा है। तो आईये दोस्तों अब जानते है Kumar Vishwas biography in Hindi के बारे में।

कुमार विश्वास का शुरुआती जीवन | Early life of Kumar Vishwas

Kumar Vishwas Biography in Hindi

कुमार विश्वास का जन्म 10 फ़रवरी 1970 उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद शहर में हुआ कुमार विश्वास के पिता का नाम डॉ. चंद्रपाल शर्मा है कुमार विश्वास के पिता एक स्कूल टीचर और इनकी माता श्रीमती रमा शर्मा है। कुमार विश्वास को मिला कर ये कुल 4 भाई और इनके एक एकलौती बहन है। कुमार विश्वास अपने परिवार में सबसे छोटे होने के कारण बचपन से माता-पिता के लाडले रहे है। कुमार विश्वास ने अपनी शुरुआती शिक्षा गाजियाबाद  के लाला गंगा विद्यालय से की स्कूली शिक्षा पूरी होने के बाद कुमार विश्वास के पिता चाहते थे की उनका बेटा इंजिनियर बने इस कारण विश्वास के पिता ने उनका एडमिशन इंजीनियरिंग कॉलेज में करा दिया। इंजीनियरिंग की शिक्षा में कुमार विश्वास में बिलकुल भी मन नहीं लगता था और अपनी जिंदगी में कुछ और ही करना चाहते थे। कुछ दिनों बाद कुमार विश्वास ने अपनी लाइफ को ले कर एक बड़ा फैसला लिया और इंजीनियरिंग बिच में ही छोड़ दी. उनकी बचपन से इच्छा थी की वो हिंदी साहित्य से जुड़े अब कुमार विश्वास को अपना खुद का विषय मिल गया और विषय इसमें कुमार ने ग्रेजुएशन कर ली इस के बाद कुमार ने “कौरवी लोकगीतों में लोकचेतना “ के विषय में PHD की शिक्षा पूरी की । कुमार विश्वास बताते है की शुरुआती दिनों में जब वो कवी सम्मेलन के लिए जाते थे तब वापस आते समय पैसे की बचत करने के लिए ट्रक या अन्य किसी वाहन की लिफ्ट ले कर आते थे।

कुमार विश्वास का करियर | Career Kumar Vishwas In Hindi

Kumar Vishwas Biography in Hindi

Source kumarvishwas.com

कुमार विश्वास ने अपने करियर के शुरुआत एक शिक्षक के रूप में की. कुमार विश्वास ने साल 1994 में राजस्थान के एक विश्वविध्यालय में शिक्षक के रूप में काम किया । कुछ सालो बाद विश्वास ने अपने हिंदी साहित्य के ज्ञान को कविता में लाना शुरू कर दिया। धीरे-धीरे कुमार विश्वास का इस क्षेत्र में अच्छा नाम होने लगा कुमार विश्वास ने जब इंजीनियरिंग की पढ़ाई बीच में छोड़ी तब उन्हें इतना विश्वास नहीं था की वो इस तरह सफल हो जाएंगे दोस्तों आज कुमार विश्वास एक ब्रांड की तरह है कुमार विश्वास की कविताएं जितनी भारत देश में प्रसिद्ध है उतनी ही विदेशो में लोकप्रिय है। कुमार विश्वास दुनिया के सभी देशो में जा कर अपनी कविताओं की चमक बिखेर चुके है। आज कुमार विश्वास इतने लोकप्रिय हो गए है की उनके एक शो करने की कीमत लाखो रुपयों में होती है।

कुमार विश्वास का राजनीतिक  में सफ़र | Political journey of Kumar Vishwas

Kumar Vishwas Biography in Hindi

Source media.darpanmagazine.com

देश में साल 2011 में जब जनलोकपाल बिल को लेकर विरोध चल रहा था उस समय कुमार विश्वास ने भी अन्ना हजारे और अरविंद केजरीवाल के साथ इस आंदोलन में भाग लिया था। हम कहें तो कुमार विश्वास की राजनीती में शुरुआत इस आंदोलन से ही हुई थी। इसके आंदोलन के असफल होने के बाद कुमार विश्वास ने अरविंद केजरीवाल का हाथ थाम लिया और 26 नवम्बर 2012 में दिल्ली में आम-आदमी पार्टी का गठन कर दिया। दोस्तों साल 2014 में दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने देश पर सालो से राज कर रही बीजेपी और कांग्रेस ऐसी धूल चटाई की दिल्ली विधानसभा चुनाव में ऐसा कभी नहीं हुआ दिल्ली की 70 सीटों में 67 सीटे जीत पार्टी ने इतिहास रच दिया आज कुमार विश्वास AAP पार्टी के राष्ट्रिय कार्यकारणी के सदस्य है. कुमार विश्वास ने साल 2014 लोकसभा चुनाव में अमेठी से राहुल गाँधी के खिलाफ चुनाव लड़ा लेकिन इन्हें इस चुनाव में राहुल गाँधी से 383124  वोटों से हार का सामना करना पड़ा।

कुमार विश्वास की उपलब्धियां | Achievements of Kumar Vishwas

Kumar Vishwas Biography in Hindi

कुमार विश्वास ने कवी बनने के बाद कई पत्रिकाओं के लिए लिखते है और उन्हें प्रिंट भी करते है। इन सब के अलावा कुमार विश्वास अपनी दो पुस्तकें भी प्रकाशित कर चुके है। जाने माने लेखक स्वर्गीय धर्मवीर भारती ने डॉ॰ विश्वास को इस पीढ़ी का महान कवी बताया और हिंदी गीतकार  ‘नीरज’ जी ने कुमार विश्वास को ‘निशा-नियामक’ की संज्ञा दी है. मशहूर हास्य कवि डॉ॰ सुरेन्द्र शर्मा ने विश्वास को एकमात्र ISO 2006 भी कहा है।

डॉ. कुमार विश्वास को मिले सम्मान व पुरस्कार | Awards and honors to Kumar Vishwas

  • हिन्दी-उर्दू अवार्ड अकादमी द्वारा 2006 में ‘साहित्य-श्री’
  • डॉ॰ कुंवर बेचैन काव्य-सम्मान एवम पुरस्कार समिति द्वारा 1994 में ‘काव्य-कुमार पुरस्कार’
  • डॉ॰ उर्मिलेश जन चेतना मंच द्वारा 2010 में ‘डॉ॰ उर्मिलेश गीत-श्री’ सम्मान
  • साहित्य भारती, उन्नाव द्वारा 2004 में ‘डॉ॰ सुमन अलंकरण’