×

रतन टाटा की जीवनी | Biography of Ratan Tata In Hindi

रतन टाटा की जीवनी | Biography of Ratan Tata In Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-1 year ago
+

मशहूर उद्योगपति रतन टाटा की जीवनी | Ratan Tata Life Story In Hindi

दुनिया की सबसे छोटी कार बनाने से पूरी दुनिया में प्रसिद्ध (Famous) हुए रतन टाटा भारत के एक बहुत ही प्रसिद्ध व्यापारी है. वे श्री जमशेदजी टाटा के पोत्र हैं. रतन टाटा टाटा समूह ग्रुप के अध्यक्ष हैं. टाटा समूह (group) की स्थापना श्री जमशेदजी टाटा ने की थी. टाटा इनका ” सर ” नेम हैं. रतन टाटा आज भी अविवाहित पुरुष हैं. रतन टाटा बहुत ही शांत (Quiet) और शर्मीले किस्म के इंसान हैं. टाटा की खास बात यह है की ये दुनिया के झूठी चमक-दमक में भरोसा (Trust) नहीं करते.

Biography of Ratan Tata In Hindi

via

रतन टाटा एक उच्च विचारो और उच्च कोटि के पुरुष हैं. रतन टाटा कई बार कहते हैं कि व्यापार का अर्थ यह नहीं हैं कि मुनाफा (Profit) कमाना, बल्कि समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझना होता हैं. रतन टाटा के दादा जी जमशेदजी टाटा ने मुंबई में सुप्रसिद्ध होटल (hotels) ताज का निर्माण कराया था जो आज भारत की शान हैं.

  • पूरा नाम – रतन नवल टाटा 
  • जन्म – 28 दिसम्बर 1937, सूरत, गुजरात, भारत 
  • वर्तमान निवास – कुलाबा मुंबई, भारत 
  • जाति – पारसी 
  • पिता का नाम – नवल टाटा 
  • माता का नाम – सोनू टाटा 
  • पेश – एक बिजनेसमैन और निवेशक 
  • धर्म – पारसी 
  • शिक्षा प्राप्त – कोनरेल विश्वविद्यालय और हार्वड विश्वविद्यालय से 
  • शादी – विवाह नहीं किया 

सम्ब​न्धी --

  • सिमोन टाटा (सौतली माँ)
  • जे आर डी टाटा (चाचा)
  • नोएल टाटा (सौतेला भाई)

स​​म्मान -

  • भारत सरकार की तरफ से  - पद्दम भूषण 
  • नैनो कार – रतन टाटा की देन हैं जो भारत की सबसे सस्ती कार हैं. 
  • टाटा इण्डस्ट्री – 1981 में टाटा समूह और ग्रुप के अध्यक्ष बनें

रतन टाटा भारत के राष्ट्रीय रेडियो (radio) और इलेक्ट्रॉनिक कंपनी लिमिटेड नेल्को के डायरेक्टर चार्ज पर भी रह चुके हैं. रतन टाटा भारत के टाटा समूह ग्रुप के अध्यक्ष (director) पद पर रहे है. अभी वर्तमान में रतन टाटा टाटा समूह ग्रुप के चेरीटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष हैं. टाटा 2012 में टाटा समूह के अध्यक्ष से सेवामुक्त हो गए है.

रतन टाटा टाटा के सभी विभागों जैसे टाटा स्टील, टाटा मोटर्स, टाटा कंसल्टेंट्स, टाटा पावर और टाटा टेलिसर्विसेज आदि टाटा के कंपनियों के अध्यक्ष के पद पर रह चुके हैं. रतन टाटा के समय टाटा समूह ने कई ऊंचाईयों को छुआ और आय राजस्व भी कई गुना बढ़ा.

रतन टाटा का शुरूआती जीवन

 इनका जन्म 28 दिसम्बर सन 1937 को सूरत, गुजरात में हुआ था. इनके पिता (father) का नाम नवल टाटा है जो श्री जमशेदजी टाटा के पुत्र  थे. रतन टाटा की माँ का नाम सोनू टाटा हैं. रतन टाटा की एक सौतेली माँ (step mother) भी है जिसका नाम सिमोन टाटा हैं. सिमोन का एक पुत्र हैं जिसका नाम नोएल टाटा हैं. रतन टाटा की शिक्षा मुंबई के कैपियियन स्कूल से हुई और माध्यमिक (Secondary) शिक्षा कैथड्रल एंड जॉन कानून स्कूल से हुई. इसके बाद हार्वड बिजनेस स्कूल से 1975 में इन्होने एडवांस्ड मैनेजमेंट प्रोग्राम पूरा किया.

रतन टाटा का कैरियर 

Biography of Ratan Tata In Hindi

via

रतन जी ने अपने करियर की शुरुआत 1961 में की, शुरू में इन्होंने शॉप फ्लोर आदि पर वर्क किया. बाद में रतन जी टाटा समूह और ग्रुप के साथ जुड़े थे. 1971 में रतन जी नेल्को कंपनी (रेडियो और इलेक्ट्रॉनिक) में डायरेक्टर पद पर नियुक्त हुए. 1981 में जमशेदजी टाटा ने रतन को टाटा समूह का नया अध्यक्ष बनाया. रतन टाटा के समय टाटा इंड्रस्ट्री ने कई मंजिले पाई, 1998 में पहली बार रतन टाटा के निर्देशन में टाटा मोटर्स ने एक भारतीय कार ” टाटा इंडिका ” को बाजार में उतारा था. इससे टाटा समूह की पहचान धीरे-धीरे बढ़ती (Increasing) चली गयी.

इसके बाद रतन टाटा ने एक छोटी कार टाटा नैनो जो भारत में बनी है मार्केट में उतारी, जो भारत के इतिहास (History) में सबसे सस्ती कार थीं. उसके बाद रतन टाटा ने 2012 में टाटा के सभी प्रमुख पदों से सेवा मुक्त होने की घोषणा की. टाटा अभी चेरीटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष का पद देखते हैं. रतन टाटा ने देश और विदेशों में भी कई संघटनो के साथ भी कार्य (Work) किया हैं और अपने बिजनेस  को आगे लेकर गए है.

रतन टाटा को प्राप्त सम्मान 

भारत सरकार ने रतन टाटा को उनके भारत की आर्थिक क्षेत्र में योगदान के लिये सन 2000 में पद्दम भूषण और सन 2008 में पद्दम विभूषण से सम्मानित किया. पद्म भूषण  और पद्म विभूषण भारत देश के दुसरे और तीसरे राष्ट्रीय पुरस्कार हैं. रतन टाटा को कुछ संघठनो ने पुरस्कार से नवाजा हैं जिनकी नामावली इस प्रकार हैं.

मानद – एच ई सी पेरिस

Biography of Ratan Tata In Hindi

via 

  • ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग की मानद डॉक्टर – क्लेमसन विश्वविद्यालय
  • कानून की मानद उपाधि – न्यूयार्क विश्वविद्यालय कनाडा
  • व्यापार की मानद उपाधी – सिंगापूर मैनेजमेंट विश्वविद्यालय की तरफ से
  • मानद फैलो – इंजीनियरिंग की रॉयल अकादमी
  • 2010 के सबसे बड़े बिजनेस लीडर – एशिया पुरस्कार
  • मानद नागरिक पुरस्कार – सिंगापुर सरकार
  • साइंस की मानद उपाधि – वारविक विश्वविद्यालय
  • प्रौद्योगिकी की मानद उपाधि – एशियन एंड इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी
  • बिजेनस एडमिनिस्ट्रेटर की मानद उपाधि – ओहियो स्टेट विश्वविद्यालय

रतन टाटा से जुड़े कुछ रोचक तथ्य (Amazing Facts AboutRatan Tata) 

 

  • टाटा समूह के अंदर 110 कंपनी आती हैं जिसमे टाटा चाय (Tea) से लेकर पांच सितारा होटल तक, सुई से लेकर स्टील तक और लखटकिया नैनो से लेकर हवाई जहाज तक सब बनाते है.
  •  रतन टाटा को पालतू (pet) जानवरों से बहुत ही लगाव हैं.

 

Biography of Ratan Tata In Hindi

via

  •  टाटा को हवाई जहाज उड़ाना (fly) भी पसंद है उन्हें इसके लिये लाइसेंस भी मिला है.
  • रतन टाटा को भारत सरकार की तरफ से पद्म भूषण और पद्म विभूषण मिल चूका हैं.
  • रतन टाटा को 4 बार प्यार हुआ लेकिन कभी शादी (wedding) नहीं की क्योंकि रतन टाटा और प्यार की बीच कुछ अड़चने भी आई थी.
  • रतन टाटा का जन्म 28 दिसम्बर 1937 को गुजरात के सूरत में हुआ था. पिता नवल और माता सोनू ने रतन टाटा को गोद लिया था. मात्र 10 साल की उम्र (Ages) में इनके माता -पिता इनसे अलग हो गये थे तब नवल और सोनू ने इनका पालन-पोषण किया था.