×

सरल भाषा में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में अंतर Difference between States and Union Territories

सरल भाषा में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में अंतर Difference between States and Union Territories

In : Meri kalam se By storytimes About :-14 days ago
+

भारत में पहलें कुल 29 राज्य और 7 केंद्र शासित प्रदेश थें लेकिन अब इस में बदलाव हो चुका है अब भारत में 7 से बढकर केंद्र शासित प्रदेशों की संख्या 9 हो गई है. 5 अगस्त को गृहमंत्री अमित शाह राज्यसभा में जम्मू- कश्मीर में धारा 370 के अधिवेशन पर राज्यसभा में बहुमत मिलने के साथ ही जम्मू- कश्मीर में 370 के साथ आर्टिकल 35-ए के समाप्त होने के साथ जम्मू- कश्मीर से जुडें लद्दाख को भी भिन्न कर दिया गया. अब जम्मू-कश्मीर से जुड़ी सभी विधानसभा केंद्र शासित प्रदेश में शामिल हो गई है एवं लद्दाख विधानसभा क्षेंत्र में नही है लद्दाख अब बिना विधानसभा के साथ केंद्र शासित प्रदेश बन गया है.

क्यों बनाया जाता है केंद्र शासित प्रदेश? |  Why is Union Territories built?

Difference between States and Union Territories

Source akm-img-a-in.tosshub.com

भारत देश में केंद्र शासित प्रदेशों का निमार्ण क्यों किया जाता है इससे जुड़ा कोई एक स्पष्ट कारण नही है. लेकिन इससे महत्वपूर्ण माने जाते है की एक सीमित आकार वाले और कम जनसंख्या वाले क्षेंत्र में वहां की अलग संस्कृति हो वहां की प्रशासनिक महत्वों की रक्षा करता प्रमुख बिन्दु हो.

केंद्र शासित प्रदेशों का सामरिक महत्व | Union Territories

Difference between States and Union Territories]Source m.jagranjosh.com

भारत देश में वर्तमान में लक्षद्वीप और अंडमान निकोबार दो ऐसे केंद्र शासित प्रदेश है जहां पर विधानसभा को निर्माण कर उन राज्यों की व्यवस्था को संचालित रखना आसान नही है. लेकिन इन दो केंद्र शासित प्रदेशों को  केंद्र से संचालित करना थोड़ा आसान है जो रणनीतिक तरीकें से भी काफी अहम है. इन राज्यों में आपातकालीन स्थिति पैदा होने पर केंद्र सरकार कोई भी निर्णय आसानी से ले सकती है.

चलिए इन 5 पांइट में जानते है राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों  में अंतर | Difference between State and Union Territories In Hindi

Difference between States and Union Territories

Source smedia2.intoday.in

1. भारत में जो भी 28 राज्य है उन की खुद की चुनीं हुई सरकार होती है जबकि केंद्र शासित प्रदेश केंद्र सरकार के अधीन होते है इन केंद्र शासित प्रदेशों में केंद्र सरकार का सीधा शासन होता है.

2. भारत में दो केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी और दिल्ली जहां विधानसभा है और इनकी चुनी हुई सरकार है अब इसमें जम्मू कश्मीर भी शामिल हो गया है. बाकी अन्य 7 केंद्रशासित प्रदेशों में सीधा केंद्र सरकार का शासन है.

3. भारत के राज्य केंद्र से अपने राज्य के संघीय संबंधो में साझा करते है. वहीं केंद्र शासित प्रदेश केंद्र के एकात्मक संबंध तय करने है.

4. सभी राज्यों में एक राज्यपाल होता है.  जो उन राज्यों कार्यकरणी का प्रमुख होता है. वहीं केंद्र शासित प्रदेंशो का मुख्य कार्यकर्ता भारत का राष्ट्रपती होता है.

5. सभी राज्यों में मुख्यमंत्री का शासन होता है जो जनता के मत के द्वारा चुनें जाते है. वही केंद्र शासित राज्यों मे एक प्रशासन के द्वारा चलाया जाता है. जिसें राष्ट्रपती के द्वारा चुना जाता है.

Read More - क्या है आर्टिकल 370 और 35-ए इनके विशेषाधिकार