×

नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जीवन और बलिदान | Netaji Subhash Chandra Bose Jivani in Hindi

नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जीवन और बलिदान | Netaji Subhash Chandra Bose Jivani in Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-1 year ago
+

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का जीवन परिचय | All About Life of Netaji Subhash Chandra Bose in Hindi

सुभाष चन्द्र बोस स्वतंत्रा अभियान के मुख्य क्रान्तिकारियो में से एक थे. सुभाष बोस का जन्म 13 जनवरी 1897 को उरिसा में कट्टक में हुआ था . सुभाष चन्द्र बोस जो की नेता जी के नाम(name) से भी जाने जाते है स्वामी विवेकानंद की विचारधाराओ से प्रेरित(Induced) थे . बोस ने 1919 में बी.ए ओर 1920 में  आय.सी.एस. परिक्षा उत्तीर्ण की. दितीये विश्व युद्ध के दौरान अंग्रेजो से लड़ने के लिए जापान(japan) की सहायता लेते हुए नेता जी ने आज़ाद हिन्द फ़ौज का गठन किया  था .

Introduction of Life of Subhash Chandra Bose

Life of Subhash Chandra Bose

via : wp.com

“तुम मुझे खून दो मै तुम्हे आजादी दूंगा” सुभाष चंद्र बोस का ये प्रसिद्ध(Famous) नारों में से एक था जो उस वक़्त काफी प्रचलन में था. 1920 के अंत में बोस राष्ट्रीय युवा कांग्रेस के उग्र नेता और 1938-1939 में राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष बने.

Life of Subhash Chandra Bose

via : amazonaws.com

गाँधी जी के विचारो से मेल न खाने की वजह से बोस को कांग्रेस छोड़ना पड़ा. 1941 में बोस जर्मनी पहुचे जहा से उन्होंने भारत के स्वतंत्रता की भागदौड़ संभाली. नवंबर 1941 में, जर्मनी के दिए हुए पैसो से बोस ने बर्लिन में इंडिया सेंटर और फ्री इंडिया रेडियो की भी स्थापना की, जिसके सहारे बोस अपनी बात लोगों तक पहुचाते .

Life of Subhash Chandra Bose

via : rochaksafar.com

1942 में जापान की दक्षिणी एशिया पर जीत से बोस को साफ़ हो गया की जर्मनी से उनके देश को कोई खतरा नही है सो बोस ने दक्षिण एशिया जाने का निर्णय लिया.

Life of Subhash Chandra Bose

via : fadoopost.com

1942 के अंत में बोस अडोल्फ़ हिटलर से मिले l अडोल्फ़ हिटलर ने सुभाषचंद्र बोस को पनडुब्बी लेने की सलाह दी और साथ ही दक्षिण एशिया जाने की भी सलाह दी l

Life of Subhash Chandra Bose

via : wp.com

इन सब के चलते ही बोस पिता बन चुके थे l बोस ने जापान की मदद से ई.एन.ए  का दोबारा निर्माण किया l जिसमे ब्रिटिश इंडियन आर्मी द्वारा सिंगापुर की जंग में गिरफ्तार किए गए l  भारतीय सैनिक भी शामिल थे l

Life of Subhash Chandra Bose

via : intoday.in

बोस ने कांग्रेस के खिलाफ जाते हुए ब्रिटिश(British) को दितीये विश्वयुद्ध में साथ देने से मना कर दिया l जहा उन्होंने पहली बार “तुम मुझे खून दो मै तुम्हे आजादी दूंगा” नारे का इस्तेमाल किया था l जिसके चलते ब्रिटिश सरकार(govt.) ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था l बोस(SCB) ने जेल में भूख हड़ताल की जिसके चलते ने जेल से हटा कर कमरे में बंद(Close) कर  दिया गया

Life of Subhash Chandra Bose

via : ibc24.in

l बोस की मृत्य ने पुरे भारत(india) को हिला दिया था l हलाकि उनकी म्रत्यु की वजह कभी साफ़ नही हो पी थी l कुछ लोगो का कहना था की बोस जिस विमान(plane) में थे वो विमान क्रेश हो गया था l

Life of Subhash Chandra Bose

via : bbci.co.uk

बोस ने जागते सोते बस एक ही सपना देखा था ओर वो सपना एक आज़ाद भारत(india) का था l