किसान संग नेता राकेश टिकैत का जीवन परिचय | Rakesh Tikait Biography in Hindi

किसान संग नेता राकेश टिकैत का जीवन परिचय | Rakesh Tikait Biography in Hindi

In : Viral Stories By storytimes About :-1 year ago
+

Rakesh Tikait Biography in Hindi

आज के समय में लोग अपने-अपने कार्यो की वजह से काफी चर्चाओं में है। चाहे वो कार्य राजनीती से सम्बंधित हो या फिर सामाजिक से सम्बंधित, इसी तरह हमारे देश के किसान नेता राकेश टिकैत भी उनमे से एक है। हाल ही मे केन्द्र सरकार द्वारा 2020 में कृषि कानून के विरोध में गाजीपुर बार्डर पर धरना प्रदर्शन करने के कारण चर्चाओं मे रहे राकेश टिकैत भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं जो वर्तमान समय में किसान आंदोलन से सम्बंधित काफी चर्चाओं में  है| राकेश टिकैत के बड़े भाई नरेश टिकैत भी किसान आंदोलन में रहे है। नरेश टिकैत किसान यूनियन के अध्यक्ष है। राकेश टिकैत पहले वकालत करते थे उसके बाद अब सब इंस्पेक्टर के पद पर है। जब 1992 में किसान आंदोलन चल रहा था उस समय राकेश टिकैत के पिता महेंद्र सिंह टिकैत किसान आंदोलन का नेतृत्व कर रहे थे, उस समय राकेश टिकैत ने अपनी नौकरी छोड़ दी थी क्योंकि वह किसान आंदोलन में भाग लेना चाहते थे|

Source

राकेश टिकैत का जीवन परिचय हिंदी में (Rakesh Tikait Biography in Hindi)

भारत में हो रहे किसान आंदोलन में काफी लोग चर्चा में रहे है।  राकेश टिकैत एक किसान नेता है। राकेश टिकैत उतरी भारत में रहने वाले एक किसान नेता है, जिसने किसानो के हो रहे आंदोलन में अपनी भूमिका निभाई । राकेश टिकैत के बड़े भाई नरेश टिकैत भी किसान आंदोलन में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।  नरेश टिकैत किसान यूनियन के अध्यक्ष है।भारतीय किसान संग के नेता राकेश टिकैत वर्तमान में काफी चर्चाओं मे है। राकेश टिकैत का जन्म भारत के उत्तरप्रदेश के सिसोली ग्राम में हुआ था। और इनका जन्म 4 जून 1969 को हुआ था । आपको बता दे की राकेश टिकैत के पिता महिंद्रा सिंह भी किसान आंदोलन के नेतृत्व में थे । राकेश टिकैत पहले वकालत करते थे उसके बाद इन्होने सब इंस्पेक्टर  के  पद पर रहे । जब 1992 में किसान आंदोलन हो रहा था उस समय राकेश टिकैत के पिता महिंद्र सिंह  टिकैत  किसान आंदोलन का नेतृत्व कर रहे थे' उस समय राकेश टिकैत ने अपनी नौकरी छोड़ दी थी क्योंकि वह किसान आंदोलन में भाग लेना चाहते थे । राकेश टिकैत ज्यादातर किसानो का साथ देते थे ' और आज भी किसान आंदोलन में भाग लेते है । वर्तमान समय में राकेश टिकैत काफी चर्चाओं में  है।

Source

राकेश टिकैत का जीवन परिचय -

राकेश टिकैत का जन्म भारत के उत्तरप्रदेश के सिसोली ग्राम में, 4 जून 1969 को हुआ था। राकेश टिकैत उतरी भारत में रहने वाले एक किसान नेता है, राकेश टिकैत के बड़े भाई नरेश टिकैत ने  भी किसान आंदोलन में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। आपको बता दे की राकेश टिकैत के पिता महेंद्र सिंह भी किसान आंदोलन के नेतृत्व में थे। राकेश टिकैत ज्यादातर किसानो का साथ देते थे ' और आज भी किसान आंदोलन में भाग लेते है। राकेश टिकैत की  शादी 1985  में  दादरी गांव में हुई थी। राकेश टिकैत की पत्नी का नाम सुनीता देवी है। राकेश टिकैत के कुल 4 पुत्र है 'राकेश टिकैत के बड़े बेटे का नाम चरण सिंह है और उनकी बड़ी बेटी ज्योति है राकेश टिकैत के चारो बच्चो की शादी हो चुकी है।

Source

राकेश टिकैत दिखते कैसे है?

राकेश टिकैत सावले रंग के है। और इनकी ऊंचाई 5 ‘10 ' है, और इनकी आँखों का रंग काला है 'और बालो का रंग हल्का सफ़ेद व काला है।

राकेश टिकैत के पास कितनी सम्पति है?

भारतीय किसान आंदोलन के नेता राकेश टिकैत ने अब तक दो बार ही चुनाव लड़े  है।  वर्तमान  समय में किसान आंदोलन के नेता राकेश टिकैत के पास 4 करोड़ रूपए की सम्पति है। बात करे 2014 की जब लोकसभा के चुनाव चल रहे थे उस समय राकेश टिकैत के पास 4,25 ,18,039 रूपए थे ।

Source

(Rakesh Tikait Biography in Hindi)

क्यों रहते थे राकेश टिकैत के खिलाप  ब्राह्मण लोग ?

ब्राह्मण समाज के लोग हमेशा किसानो के खिलाफ रहते थे ' क्योंकि एक बार राकेश टिकैत जी ने मंदिरो के खिलाफ टिप्पणी कर दी थी 'जिसके चलते ब्राह्मण लोग' राकेश टिकैत के खिलाफ  रहे।

Source

राकेश टिकैत की मुख्य मांगे

1.राकेश टिकैत की मुख्य मांगे -सन 1976 से लेकर 1997 तक में ऐसे किसान जिनकी जमीन अधिकृत की गई थी उन्हें कम से कम 15 % भूमि का मलिकाना हक़ दिया चाहिए।

2.किसान कोटा स्कीम के अंतर्गत राज्य व जिलों के भूखंड का रेट कम होना चाहिए।

3.गांव में साफ सफाई और अस्पताल में ईलाज का 15 प्रतिशत खर्च ही लिया जाये।

4. गांव- गावं  के रूटों पर बनने वाले मेट्रो स्टेशन का नाम गाँव के नाम पर रखा जाये।

5. ऐसे लोग जो कि रेहड़ी या पटरी पर काम करते हैं उन्हें अतिक्रमण के नाम पर परेशान न किया जाये, और वेंडर्स के लिए उचित स्थान भी दिया जाये ताकि वे लोग आराम से रह सके |

6. सेक्टर्स में बनें कान्वेंट स्कूल में किसानों व गरीब के बच्चों का भी प्रवेश हो यह सुनिश्चित किया जाये ।

किसान संग नेता राकेश टिकैत का जीवन परिचय | Rakesh Tikait Biography in Hindi