×

15 अगस्त पर स्टेज उद्बोधन के लिए महत्वपूर्ण कविताएं | 15 August Best Poem In Hindi

15 अगस्त  पर स्टेज उद्बोधन के लिए महत्वपूर्ण कविताएं | 15 August  Best Poem In Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-2 months ago
+

नमस्कार दोस्तो आप सभी को स्टोरी टाइम्स की पुरी टीम की और से स्वतंत्रता दिवस की ढेर सारी बधाई. हम सभी देश में हर साल की तरह आयोजित होने वाले  स्वतंत्रता दिवस को बड़ी धूम-धाम से मनाने वाले है दोस्तो आज हम भारत के इस आजादी दिवस को और खास बनाने के लिए आपके लिए लेकर आए है 15 अगस्त के मौके पर उद्बोधन की जाने वाली कुछ खास कविताओं का सग्रह. चलिए दोस्तो इस स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लोगो में देश के लिए जज्बा और जुनून भरने वाली इन कविताओं की शुरुआत करते है.

कई वर्षो तक गुलामी के कैद रहें भारत देश को 15 अगस्त 1947 को पुर्ण आजादी मिली. इस दिन भारत देश ब्रिटिश सरकार की गुलामी की जंजीरों से मुक्त हुआ था और तब से भारत देश इस दिन को स्वतंत्रता दिवस के रूप में हर साल बड़े हर्षों उल्लास के साथ मनाता है.

इस दिन  सभी भारतीय आजादी की खुशी और देश भक्ति की भावना को अलग-अलग तरीके से व्यक्त करते है. कई लोग इस दिन को और खास बनाने के लिए कविताओं के माध्यम से देश भक्ति की अखंडता ओर वीरता को व्यक्त करते है.

देशभक्त इस दिन देश की रक्षा के लिए अपनी जान को न्योछावर करने वालें देश के वीर जवानों के त्याग, बलिदान को याद करते हुए सुंदर कविताओं का बखान करते है.

दोस्तो आज हम अपने देशभक्ती की भावनाओं को कविता के रूप में पेश करने के लिए आपके लिए देशभक्ति की कविताएं लेकर आए है. इन कविताओं को पढ़ने के बाद आपके अंदर देशभक्ति का एक अलग ही जूनून पेदा होगा साथ ही इस बात पर गर्व होगा की में एक हिंदुस्तानी हु एवं अग्रेजों के द्वारा भारत माता की धरती पर किए गए जुल्मों को याद कर आपका खून खोल उठेगा तो चलिए दोस्तो वतन की खुशबू की बिखेरती इन कवितओं को  शुरु करते है.

“सबसे न्यारा मेरा देश“ - Best Poem Independence Day

15 August  Best Poem In HindiSource pibphoto.nic.in

1. "भारत देश हमारा प्यारा।
सारे विश्व में हैं न्यारा।
अलग अलग हैं यहाँ रूप रंग।
पर सभी एक सुर में गाते।
झेंडा ऊँचा रहे हमारा।

हर परदेश की अलग जुबान।
पर मिठास की उनमे शान।
अनेकता में एकता पिरोकर।
सबने मिल जुल कर देश संवारा।

लगा रहा हैं भारत सारा।
‘हम सब एक हैं’ का नारा।"

“झंडा ऊंचा रहे हमारा“ - Independence Day Poem In Hindi

"विजयी विश्व तिरंगा प्यारा,
झंडा ऊँचा रहे हमारा।

सदा शक्ति बरसाने वाला,
प्रेम सुधा सरसाने वाला
वीरों को हर्षाने वाला
मातृभूमि का तन-मन सारा,
झंडा ऊँचा रहे हमारा।

स्वतंत्रता के भीषण रण में,
लखकर जोश बढ़े क्षण-क्षण में,
काँपे शत्रु देखकर मन में,
मिट जाये भय संकट सारा,
झंडा ऊँचा रहे हमारा।

इस झंडे के नीचे निर्भय,
हो स्वराज जनता का निश्चय,
बोलो भारत माता की जय,
स्वतंत्रता ही ध्येय हमारा,
झंडा ऊँचा रहे हमारा।

आओ प्यारे वीरों आओ,
देश-जाति पर बलि-बलि जाओ,
एक साथ सब मिलकर गाओ,
प्यारा भारत देश हमारा,
झंडा ऊँचा रहे हमारा।

इसकी शान न जाने पावे,
चाहे जान भले ही जावे,
विश्व-विजय करके दिखलावे,
तब होवे प्रण-पूर्ण हमारा,
झंडा ऊँचा रहे हमारा।"  – श्यामलाल गुप्त पार्षद

दोस्तो आजादी के इस पर्व के दिन सभी भारतीयों को एक साथ हो कर देश में बढते भ्रष्टाचार, बलात्कार, महिलाओं के ऊपर बढते जुर्म , हत्या आदी को देश से जड़ से खत्म करने का संकल्प लेना चाहिए.

15 August  Best Poem In HindiSource www.larutadelsorigens.cat

देश मे बढ रही बेरोजगारी, गरीबी, से लड़ने के लिए सभी को साथ मिल कर देश को आगे बढ़ाना चाहिए.लगातार देश में बढ़ रहे आंतकवाद से एकजुटता के साथ इनका मुकाबला कर इनको देश से उखाड़ फेंकने की शपत लेनी होगी. सभी को देश की शान बान की रक्षा के लिए एकजुट होकर प्रयास करना चाहिए तभी हम भारत माता की रक्षा के लिए शहीद हुए उन भारत मां के सपूतो को सच्ची श्रद्धांजली अर्पित कर पाएगें

“देशभक्त की पुँकार" - Top Independence Day Poem In Hindi

"भागी परतंत्रता,
आयी स्वतंत्रता,
दिखलायी वीरता,
वीरों की ललकार,
देशभक्त की पुँकार,
आगे बढ़े तरुणाई
भारत को सजायेंगे
रक्षक हम आज़ादी के
गौरव को बढ़ायेंगे
रह्स्त्र गीत गाएंगे,
तिरंगा लहरायेंगे"

“ ऐ मेरे प्यारे वतन“ - New Best Independence Day Poem 

"ऐ मेरे प्यारे वतन,
ऐ मेरे बिछड़े चमन
तुझ पे दिल कुरबान

तू ही मेरी आरजू़,
तू ही मेरी आबरू
तू ही मेरी जान

तेरे दामन से जो आए
उन हवाओं को सलाम
चूम लूँ मैं उस जुबाँ को
जिसपे आए तेरा नाम

सबसे प्यारी सुबह तेरी
सबसे रंगी तेरी शाम
तुझ पे दिल कुरबान

माँ का दिल बनके कभी
सीने से लग जाता है तू
और कभी नन्हीं-सी बेटी
बन के याद आता है तू
जितना याद आता है मुझको
उतना तड़पाता है तू
तुझ पे दिल कुरबान

छोड़ कर तेरी ज़मीं को
दूर आ पहुँचे हैं हम
फिर भी है ये ही तमन्ना
तेरे ज़र्रों की कसम

हम जहाँ पैदा हुए उस
जगह पे ही निकले दम
तुझ पे दिल कुरबान" – प्रेम धवन

15 August  Best Poem In HindiSource www.trzcacak.rs

15 अगस्त की सुबह होने के साथ पुरा भारतवर्ष देश की आजादी के जश्न को मनाने में लग जाता है हर तरफ देश-भक्ति का महौल होता है स्कुल, कॉलेज, सरकारी दफ्तर , हर जगह देश भक्ति के गीत हमारे अंदर देश भक्ति की भावना को जाग्रत करते है.

जहां स्वतंत्रता दिवस के दिन कविताएं हमें देश भक्ति की प्रेरणा देने के साथ देश के जवानों के बलिदानों की कहानियों की यादों को ताजा कर आखों मे पानी भर देती है तब हमें देश के उन सच्चें सपुतों पर गर्व महसूस होता है.

क्योंकि दोस्तो आज वो शहिदों के बलिदान ही है जिनके वजह से हम आज देश में  आजादी के साथ जी रहें है तब हमें इस बात पर बड़ा गर्व होता है की हमारा जन्म उस मिट्टी पर हुआ है जिसे आजाद करने के लिए यहां के वीरों ने इस धरा को अपने खून से सिंचा दिया था और हम सभी को इस आजादी का पर्व को मनाने का अवसर दिया.

"भारत देश हमारा प्यारा" - 15 August Best Poem Hindi

"भारत देश हमारा प्यारा।
सारे विश्व में हैं न्यारा।
अलग अलग हैं यहाँ रूप रंग।
पर सभी एक सुर में गाते।
झेंडा ऊँचा रहे हमारा।

हर परदेश की अलग जुबान।
पर मिठास की उनमे शान।
अनेकता में एकता पिरोकर।
सबने मिल जुल कर देश संवारा।

लगा रहा हैं भारत सारा।
‘हम सब एक हैं’ का नारा।"

15 August  Best Poem In HindiSource www.emirates247.com

सालो तक ब्रिटिश सरकार की गुलामी की जंजीरो में कैद रहने के बाद 15 अगस्त 1947 को भारत देश आजाद हुआ दोस्तो वैसे देश को स्वतंत्रता दिलाने में हजारों वीरों का बलिदान शामिल है जिन्होंने देश की आजादी के लिए अपने प्राणों की बाजी लगा दी. दोस्तो उन्हीं नामो मे कुछ ऐसे नाम है जो भारत देश के आजादी के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों मे लिखे गए है.

“सारे जहां से अच्छा हिंदुस्तान हमारा“ - All Poem 15 August Poem In Hindi

"सारे जहाँ से अच्छा
हिंदुस्तान हमारा

हम बुलबुलें हैं उसकी
वो गुलसिताँ हमारा।

परबत वो सबसे ऊँचा
हमसाया आसमाँ का

वो संतरी हमारा
वो पासबाँ हमारा।

गोदी में खेलती हैं
जिसकी हज़ारों नदियाँ

गुलशन है जिनके दम से
रश्क-ए-जिनाँ हमारा।

मज़हब नहीं सिखाता
आपस में बैर रखना

हिंदी हैं हम वतन है
हिंदुस्तान हमारा।"   – मुहम्मद इक़बाल

इन वीरों के नाम - महात्मा गांधी, भगत सिंह, चन्द्र शेखर आजाद, लाला लाजपत राय, सुखदेव, बाल गंगाधर तिलक, रानी लक्ष्मी बाई, मंगल पांडे, तात्या टोपे, राजगुरु, नाना साहब, पण्डित जवाहरलाल नेहरु, देश के इन वीरों का देश की आजादी में अहम भागीदारी निभाई थी. इन वीरों ने देश की आजादी के लिए अग्रेजी हुकूमत के सामने साहस भरा था और देश भक्ति का जज्बा दिखाते हुए अग्रेंजी सरकार को भारत छोडने के लिए मजबुर कर दिया था.

15 August  Best Poem In HindiSource www.hd-wallpapersdownload.com

भारत देश के इन स्वतंत्रता सेनानियों ने आंदोलनों, क्रांतिकारी भाषणों के साथ आगे बढते हुए देश के हर निवासी को स्वतंत्रता की इस लड़ाई में भाग लेने के लिए आहवान किया था. इनके भाषणों और विचारधाराओं ने ही अपने देश के प्रति देशभक्ति और अग्रेंजो के खिलाफ नफरत पैदा की थी. इन सभी विचारधाराओं के मजबुत होने के सभी ने अग्रेंजो के खिलाफ देश की आजादी की लड़ाई लड़ी और देश को स्वतंत्रता दिलाई.

देश की आजादी के लिए अपने प्राणों की चितां न करते हुए देश के लिए कुर्बान होने वाले वीरों के बलिदान की याद में 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस के दिन वीरों की शहादत में लिखी गई यह कविताएं उनके बलिदान को बखान कर हर भारतीय में देश भक्ति की भावना जाग्रत करती है.

Read More - स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) पर प्रेरणादायक भाषण , स्वतंत्रता दिवस पर शायरी एवं कविताएँ