×

मुख्यमंत्री मायावती की जीवनी और उनसे जुड़े विवाद | Biography of Chief Minister Mayawati in Hindi

मुख्यमंत्री मायावती की जीवनी और उनसे जुड़े विवाद | Biography of Chief Minister Mayawati in Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-11 months ago
+

मायावती का जीवन परिचय  | All About Biography of Chief Minister Mayawati in Hindi

  • जन्म                  - 15 जनवरी 1956 (आयु 62) नई दिल्ली
  • राजनैतिक पार्टी     - बहुजन समाज पार्टी
  • संबंधी                 - 6 भाई और 2 बहनें
  • निवासस्थान         - C-1/12, हुमायूँ रोड, नई दिल्ली -110003 (वर्तमान)
  • व्यवसाय             - वकील, राजनीतिज्ञ, सामाजिक कार्यकर्ता
  • धर्म                    - बौद्ध धर्म
  • वैवाहिक स्थिति     - अविवाहित

मायावती जिनका पूरा नाम "मायावती प्रभुदास" है, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद पर रहते हुए स्वयं को भारतीय राजनीती के पटल पर दलित हितों के रक्षक के रूप में अपने आपको प्रस्तुत किया| मायावती जी भारतीय राजनीती के मंच पर उपस्थित ऐसी पहली दलित नेत्री हैं जिन्होंने चार बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की गरिमा बढ़ाई|

मायावती का प्रारंभिक जीवन-

Biography of Chief Minister Mayawati

via : indiaheadlines.in

भारतवर्ष की इस दलित भारतीय राजनीतिज्ञ और बहुजन समाज पार्टी की आजीवन घोषित राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती का जन्म जनवरी 1956 को श्रीमती सुचेता कृपलानी अस्पताल नई दिल्ली में एक हिन्दू जाति (चमार) में पिता प्रभुदास माँ रामरती के घर हुआ था| मायावती जी के पिता प्रभुदास उनके जन्म के समय गौतम बुद्ध नगर के बादलपुर डाकघर में कर्मचारी थे, छह भाई और दो बहनो को वृहद् परिवार के चलते भाइयों को निजी स्कूलों में और घर की लड़कियों को सरकारी सुविधा वाले सरकारी स्कूलों में शिक्षा दी गयी| इनके शिक्षोपरांत इनके पिता भारतीय डाक विभाग के अनुभाग प्रधान के पद से सेवा निवृत्त हुए| मायावती का पैतृक निवास स्थान बादलपुर (गौतम बुद्ध नगर से सम्बद्ध है)|

मायावती की शिक्षा-

Biography of Chief Minister Mayawati

via : shagunnewsindia.com

मायावती ने अपनी उच्च शिक्षा सन 1975 दिल्ली के कालिंदी कॉलेज से उत्तीर्ण की और अपनी व्यावसयिक उच्च शिक्षा बी. एड. सन 1976 में बी ऍम अल जी कॉलेज ग़ज़िआबाद से उत्तीर्ण की| बहनजी ने 1983 में मेरठ विश्वविद्यालय से कानून (एल. एल. बी.) की भी परीक्षा उत्तीर्ण की| प्रारम्भ में इन्होने कुछ वर्षों तक दिल्ली के जे.जे. स्कूल में शिक्षण कार्य भी किया, उन्होंने कुछ दिनों तक प्रशासनिक सेवा की परीक्षाओं के लिए भी अध्ययन किया|

मायावती का राजनीति में प्रवेश-

Biography of Chief Minister Mayawati

via : news18.com

1977 में कांसीराम के संपर्क में आने के बाद पूर्णकालिक राजनीतिज्ञ बनने का निर्णय लिया और 1984 बहुजन समाज पार्टी की स्थापना हुई जिस पार्टी ने आगे चलकर उत्तर प्रदेश की राजनीति में एक नया अध्याय लिखा और जब उत्तर प्रदेश में बी. एस. पी. सरकार बनी तो सूबे को सँभालने की कमान बहन मायावती जी को मिली| कुल चार बार वो उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री बनीं---

  • प्रथम बार जून 1995 - अक्टूबर 1995
  • द्वितीय बार 21 मार्च 1997 - 20 सितंबर 1997
  • तृतीया बार 3 मई 2002 - 26 अगस्त 2003
  • चौथी बार 13 मई 2007 से 6 मार्च 2012 तक

इसके अलावा वे 1989 में बिजनौर से संसद रहीं और 1994 में राज्य सभा के लिए चुनी गईं और वर्तमान में "आयरन लेडी" के नाम से मशहूर बहन मायावती बहुजन समाज पार्टी के आजीवन राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं और आज-कल गरीब सवर्णो के लिए आरक्षण मांगने के कारन चर्चा में हैं|

मायावती बहनजी और विवादों का काफी गहरा रिश्ता है-

Biography of Chief Minister Mayawati

via : punjabkesari.com

  • पहला वाकया 1991 का है जब मायावती और बुलंदशहर के डी. ऍम. के बीच एक मतपत्र को देखने के दौरान छीना - झपटी और हाथापाई हुई थी जिसके चलते मायावती को सेंट्रल जेल में रखा गया था|
  • मायावती जी स्वभाव से काफी गर्म मिज़ाज हैं और खरी भाषा का इस्तेमाल करती हैं कभी-कभी अपने हाथ का भी इस्तेमाल करती हैं| एक बार इनका विवाद तत्कालीन कांग्रेस नेता अब की बी. जे. पी. नेता "रीता बहुगुणा" से हुआ था|
  • देश के इस प्रथम दलित महिला मुख्यमंत्री से जुड़ा एक और विवाद गेस्ट हाउस कांड है जिसमे 1993 में यू पी में सपा-बसपा की सरकार थी और मुलायम सिंह मुख्यमंत्री थे| 1995 में मायावती ने मुलयम सरकार से समर्थन वापस ले लिया जिसके चलते लखनऊ के सरकारी गेस्ट हाउस में सपा कार्यकर्ताओं ने मायावती सहित बसपा विधायकों को घेर लिया बाद में बी जे पी कार्यकर्ताओं ने मायावती को बचाया और उसी के बाद बी जे पी के समर्थन से वो उत्तर प्रदेश की प्रथम दलित महिला मुख्यमंत्री बनी|
  • 2002 में एक और विवाद ताज कॉरिडोर से जुड़ा है जिसमे उन्होंने 175 करोड़ की परियोजना को पर्यावरण विभाग के क्लीनचिट के बिना धनराशि जारी कर दी थी|

मायावती पर आय से अधिक संपत्ति का मुकदमा चल चूका है और इसके अलावा उनका जन्मदिन भी हमेशा विवादों के घेरे में रहता है जिसकी वजह है उनको मिलने वाले उपहार|

Biography of Chief Minister Mayawati

via : internationalnewsandviews.com

बहन और आयरन लेडी के नामों से बुलाई जाने वाली इस राजनीतिज्ञ को भारतीय राजनीतिक पटल पर अभी कई और इतिहास लिखने बाकी हैं जिनका साक्षी बनने के लिए भारतीय जनमानस सदैव इच्छुक रहेगा|