×

मुन्ना बजरंगी की मौत के बाद, गुस्सा हुए पार्टी के मुखिया ने कहा योगी सरकार है गलत

मुन्ना बजरंगी की मौत के बाद, गुस्सा हुए पार्टी के मुखिया ने कहा योगी सरकार है गलत

In : Politics By storytimes About :-1 year ago
+

जैसा कि पहले से से अंदेशा था कि माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की मौत के बाद कुछ ऐसा होगा जो राजनीति का दिखायेगा एक नया रूप. जहां इस मामले में जनता एक भी शब्द बोलने के लिए नही तैयार है वहीं अब नेताओं ने इस मामले में शुरू कर दी है व्यापक स्तर पर राजनीति और आने लगे जनता को उकसाने वाले बयान - विदित हो कि मुन्ना बजरंगी के अंतिम संस्कार से ले कर उनकी wife के धरने आदि तक मे जनता उनसे दूरी बना कर चलती दिखी लेकिन नेताओं की नजदीकी अब नया रंग दे रही एक कुख्यात माफिया की मौत को.

Latest News on Akhilesh Yadav

अखिलेश यादव ने मुन्ना बजरंगी की जेल में हत्या पर कशा शिकंजा

ज्ञात हो कि टोटी विवाद के बाद चर्चा में आये पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव इंग्लैंड में परिवार के साथ छुट्टी मनाने के बाद भारत लौटे हैं और आते ही हमला बोल दिया है योगी आदित्यनाथ की सरकार पर समाजवादी (Socialist) पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मुन्ना बजरंगी की जेल में हत्या के बाद प्रदेश सरकार पर तंज कसा है। एक ट्वीट में अखिलेश यादव ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में न तो कानून बचा है न व्यवस्था। उन्होंने वतर्मान सिस्टम को सवालों के घेरे में खड़ा करते हुए जनता से इस सरकार को अगले चुनावों में बदलने की गुहार लगाई है ..

अखिलेश यादव ने किया रोष जाहिर

via - tv100.info

वतर्मान शासन और प्रशासन को सीधे सीधे कुशासन का नाम देते हुए अखिलेश यादव ने रोष जाहिर किया .. बागपत जेल में माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद प्रदेश में अब सियासत भी शुरू हो गई है। सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री तथा समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज ट्वीट करके योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशना साधा है। अखिलेश ने tweet में लिखा, आज यूपी में न तो कानून बचा है न व्यवस्था। हर तरफ दहशत का वातावरण है। 

अखिलेश ने आगे कहा

अपराधियों के हौसले इतने ऊंचे हो गए हैं कि, वो क़ैदख़ानो (Jail) तक में हत्याएं कर रहे हैं। आज यू पी में न तो क़ानून बचा है न व्यवस्था. हर तरफ़ दहशत का वातावरण है. अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि वगए हैं कि, वो जेल तक में हत्याएं कर रहे हैं। आज यूपी में न तो क़ानून बचा है न व्यवस्था. हर तरफ़ दहशत का वातावरण है. अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि वो जेल तक में हत्याएं (Murders) कर रहे हैं. ये सरकार की विफलता है. प्रदेश की जनता इस भय के माहौल में बहुत डरी-सहमी है. प्रदेश ने ऐसा कुप्रबंध व अव्यवस्था का दौर पहले कभी नहीं देखा. इन्ही के पार्टी के नम्बर दो की हैसियत वाले आज़म खान ने योगी सरकार पर जीने तक का संकट खड़ा करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि -"कैसे जियें" ..