×

गैंगस्टर माया डोलास का जीवन | Maya Dolas Life Story In Hindi

गैंगस्टर माया डोलास का जीवन | Maya Dolas Life Story In Hindi

In : Meri kalam se By storytimes About :-10 months ago
+

गैंगस्टर माया डोलास की सच्ची कहानी आखिर क्या हुआ था शूटआउट एट लोखंडवाला एनकाउंटर में | Maya Dolas Biography In Hindi 

दोस्तों आज हम बात करेंगे गैंगस्टर Maya Dolas के बारे में, दोस्तों माया डोलास पर बॉलीवुड में एक फिल्म भी बन चुकी है जो साल 2007 में और फिल्म का नाम था "Shootout At Lokhandwala" इस फिल्म में माया डोलास  का किरदार फिल्म एक्टर विवेक ओबेरॉय ने निभाया और एक्टर्स अमृता सिंह ने माया डोलास की माँ रत्नप्रभा डोलास का किरदार निभाया था।

माया डोलास आरंभिक जीवन और अपराध जगत में पहला कदम | Maya Dolas Family

Maya Dolas Life Story

Source 3.bp.blogspot.com

दोस्तों माया डोलास का बचपन का नाम महिंद्रा डोलास था, माया डोलास के पिता का नाम विठोबा और माँ का नाम रत्नप्रभा था। माया डोलास के परिवार में  कुल 6 भाई-बहन थे। डोलास ने मुंबई के एक कॉलेज से ITI की डिग्री ली, अपनी कॉलेज की पढ़ाई पूरी होने के बाद डोलास साल 1980 में गैंगस्टर की दुनिया में कदम रख दिया और अशोक जोशी की गैंग में शामिल हो गए. और थोड़े ही दिनों में इस धंधे में अपनी धाक कायम कर ली। डोलास अशोक जोशी की गैंग के लिए कंजूर गांव से अपने सारे कारोबार को चलाता था।  इस काम के साथ डोलास बायकुल्ला कंपनी से भी इस धंधे में जुड़ा हुआ था

शूटआउट एट लोखंडवाला | Maya Dolas Image

लोखंडवाला कॉम्प्लेक्स एक मध्यम और उच्च परिवार के लोगो के रहने का एक कॉम्प्लेक्स था। ये कॉम्प्लेक्स मुंबई शहर के लोखंडवाला स्वाति में स्थित है। साल 1991 में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद और उनके साथी माया डोलास और दिलीप बुवा और चार अन्य साथी उसी कॉम्प्लेक्स में एक मीटिंग के सिलसिले जमा हुए थे। और इस बात की खबर मुंबई पुलिस को लग गई और पुलिस ने इस कॉम्प्लेक्स को चारो तरफ से घेर लिया। उस समय पुलिस टीम की कमान आफ़ताब अहमद के पास थी। दोस्तों ऐसा माना जाता है की दाऊद ने ही उस समय अपने आदमियों को मारने पुलिस को टिप दी रखी थी।

Maya Dolas Life Story

Source navbharattimes.indiatimes.com

दोस्तों ये एनकाउंटर चार घंटे चला और इस एनकाउंटर की खास बात ये रही की इसे लाइव न्यूज़ चैनल्स पर दिखाया जा रहा था. इस दौरान न्यूज़ चैनल्स ने डोलास को बदनाम भी किया और बताया की एनकाउंटर के दौरान एंटी टेररिस्ट स्क्वाड को डोलास के पास से 7 लाख रूपये मिले थे। लेकिन इस बात को साबित करने के लिए मुंबई पुलिस के पास कोई ठोस सबूत नहीं था और मुंबई पुलिस इसे साबित करने में नाकाम रही।

डोलास की माँ ने उठाये फिल्म पर सवाल | Maya Dolas History,My Dolas Mother Name

Maya Dolas Life Story

Source chd.in

दोस्तों इस शूटआउट पर बनी फिल्म "शूटआउट एट लोखंडवाला" पर डोलास की माँ रत्नप्रभा ने आरोप लगाए और वो इस के खिलाफ कोर्ट में भी गई। रत्नप्रभा ने बताया की इस फिल्म में उनके बेटे की छवि को गलत तरीके से दिखाया गया। इस फिल्म में ये गलत दिखया गया डोलास ने अपने पिता की 9 साल की उम्र में हत्या कर दी थी। रत्नप्रभा ने बताया की डोलास के पिता का देहांत 1997 ने होगया था। इस फिल्म में दिखाया गया की डोलास ने ITI  की परीक्षा की पास कर ली थी। इस फिल्म में ये भी दिखाया गया है की रत्नप्रभा ने डोलास को क्रिमिनल गतिविधियों को चलाने में उसका साथ दिया था। इसी कारण इस फिल्म का दुबारा निर्माण किया गया।